Jansandesh online hindi news

UP Latest News : सीएम योगी का खौफ, पांच गैंगस्टर कोतवाली पहुंचे पुलिस के सामने किया सरेंडर

UP Latest News :उत्तर प्रदेश की पुलिस का खौफ अपराधियों पर इस कदर छाया हुआ है कि वो खुद थाने में आकर आत्मसमर्पण कर रहे हैं। गाँव रामडा के निवासी अफसरून, कय्यूम, राशिद उर्फ भूरा, सलीम और हारून के रूप में पहचाने गए सभी पांच खूंखार अपराधियों पर रंगदारी और हत्या के कई मामले दर्ज थे। उन पर हाल ही में गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था, तब से वे फरार थे।
 | 
UP Latest News : सीएम योगी का खौफ, पांच गैंगस्टर कोतवाली पहुंचे पुलिस के सामने किया सरेंडर

उत्तर प्रदेश की पुलिस का खौफ अपराधियों पर इस कदर छाया हुआ है कि वो खुद थाने में आकर आत्मसमर्पण कर रहे हैं। उन्हें डर है कि कहीं किसी एनकाउंटर में उनका नंबर न लग जाए। रिपोर्ट के मुताबिक, शामली के रामडा गाँव के रहने वाले अरशद, दानिश उर्फ काला और परवेज के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। 

उत्तर प्रदेश के अधिकतर थानों में फरार अपराधी पुलिस कार्रवाई के डर से पुलिस के सामने खुद ही आत्मसमर्पण कर रहे हैं। पिछले कई दिनों से फरार चल रहे उत्तर प्रदेश के 5 कुख्यात अपराधियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ के डर से शामली जिले में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कैराना कोतवाली के एसएचओ प्रेमवीर राणा ने कहा कि आरोपित हाथ उठाकर थाने आए थे। पुलिस के सामने आने से पहले अपराधियों ने कहा कि वे सभी आपराधिक गतिविधियों को छोड़ना चाहते हैं, इसलिए उन्होंने आत्मसमर्पण करने का फैसला किया है।

पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, गाँव रामडा के निवासी अफसरून, कय्यूम, राशिद उर्फ भूरा, सलीम और हारून के रूप में पहचाने गए सभी 5 अपराधियों पर रंगदारी और हत्या के कई मामले दर्ज थे। उन पर हाल ही में गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था, तब से वे फरार थे। 
 
कैराना कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा के अनुसार, तीनों पर बलवा, हत्या की कोशिश समेत कई केस दर्ज हैं। तीनों आरोपित गिड़गिड़ाते हुए थाने पहुँचे और आत्मसमर्पण कर दिया। इन्होंने दोबारा से भविष्य में क्राइम नहीं करने का वादा भी किया है। खबर के अनुसार इसी साल फरवरी, 2021 में कैराना में विधायक नाहिद हुसैन और उनकी माँ पूर्व सांसद तबस्सुम हसन समेत 40 लोगों के खिलाफ शामली पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज किया था।