Jansandesh online hindi news

दिनदहाड़े पत्रकार पर बदमाशों ने किया हमला,  उपजा ने की घटना की कठोर निंदा हमलावरों की गिरफ्तारी की किया मांग 

 | 
दिनदहाड़े पत्रकार पर बदमाशों ने किया हमला,  उपजा ने की घटना की कठोर निंदा हमलावरों की गिरफ्तारी की किया मांग 

पवन कुमार की रिपोर्ट

अयोध्या।
दिन दिनदहाड़े बदमाशों ने धोबना चौराहे पर धावा बोलकर पत्रकार पर हमला कर दिया । बदमाशों ने डंडे व लोहे की राड से पीट पीटकर घायल कर दिया । हमले में पत्रकार के एक साथी को भी चोटे आई है । सरेआम चौराहे पर घटना होती देख भीड़ जुटने लगी ।अपनी ओर भीड़ आता देख बदमाश पिस्टल निकालकर पत्रकार के ऊपर तानते हुए जान से मारने की धमकी दी और बदमाश हाथों में असलहा लहराते हुए भीड़ से बचते हुए भाग निकले । परंतु उनमें से  एक की प्लेटिना बाइक छूट गई । जिसे मौके पर तत्काल सूचना पर पहुंची पुलिस कब्जे में ले लिया । तहरीर मिलते ही जांच कारवाही में पुलिस जुट गई। बुधवार को घटना थाना क्षेत्र में उस समय घटी जब एक अखबार के पत्रकार रामजी दूबे पुत्र रामचरन दूबे अपने साथी परसपुर निवासी रवि के साथ लगभग 3 बजे दिन में धोबना चौराहे पर पहुंचे ही थे कि एका एक पांच छ मोटर साइकिलों पर सवार दस बारह बदमाश पहुंचे ।

जिनके हाथों में डंडा लोहे की राड और असलाहे थे । घटना की स्थिति बताते हुए घायल राम जी दूबे ले बताया कि मैं कुछ समझ पाता इसके पहले ही बदमाश हमलावर होकर मुझे और मेरे साथी को राड डंडो से पीटने लगे । चौराहे पर पत्रकार को पीटते देख भीड़ आने लगी । भीड़ को अपनी तरफ आता देख उनमें से बदमाश ने पत्रकार के सीने पर असलहा लगा कर कहा कि साले आगे कुछ ज्यादा किया तो जान से खत्म कर दूंगा । इसी बीड़ को अपनी तरफ आते देख बदमाश हवा में लहराते हुए भाग निकले । इस घटना को लेकर क्षेत्र में दहशत और भय व्याप्त है इस घटना की जानकारी होते ही तत्काल पहुंचे पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त हो गया और पुलिस से बदमाशों को पकड़ने की मांग पर अड़ गए ।

जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक हैदरगंज अश्विनी मिश्रा ने पुलिस टीम बनाकर बदमाशों को पकड़ने के लिए भेज दिया। घटना के संबंध में प्रभारी निरीक्षक अश्वनी मिश्रा ने बताया कि तहरीर मिलते ही पुलिस टीम बदमाशों की खोजबीन में लगा दी गई है और घायल पत्रकार सहित उसके साथी को मेडिकल परीक्षण के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तारुन भेज दिया गया है ।  उपजा अयोध्या इकाई के अध्यक्ष राजेन्द्र तिवारी ने घटना की कठोर निंदा करते हुए कहा है कि यदि 24 घंटे के अंदर घटना का पर्दाफाश नहीं किया गया तो संगठन द्वारा अनवरत धरना प्रदर्शन किया जाएगा । जनपद सहित प्रदेश के तमाम जगहों पर  पत्रकारों के साथ हो रही घटना शासन व प्रशासन के मंशा पर पानी फेर रहा है। कहीं न कहीं कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखाया जा रहा है।