Jansandesh online hindi news

Kushinagar News : आस्था ने तोड़ी भेदभाव की दीवारें, मुस्लिम महिला ने किया छठ पूजा

आस्था का महान पर्व छठ कई आस्थाओं का संगम है। तभी तो इस पर्व की महत्ता इतनी है कि इसे करने के लिए धर्म की दीवार भी इस पर्व के आगे बौनी साबित होती है। शुरू हुई हुई छठ पूजा की धूम के बीच कई ऐसी मुस्लिम महिलाएं हैं,जिनका इस पर्व के प्रति गहरी आस्था है। 
 | 
Kushinagar News : आस्था ने तोड़ी भेदभाव की दीवारें, मुस्लिम महिला ने किया छठ पूजा

उपेंद्र कुशवाहा

पडरौना,कुशीनगर। आस्था का महान पर्व छठ कई आस्थाओं का संगम है। तभी तो इस पर्व की महत्ता इतनी है कि इसे करने के लिए धर्म की दीवार भी इस पर्व के आगे बौनी साबित होती है। शुरू हुई हुई छठ पूजा की धूम के बीच कई ऐसी मुस्लिम महिलाएं हैं,जिनका इस पर्व के प्रति गहरी आस्था है। 

मन्नत पुरी हुई तो रखा व्रत 

पडरौना बसहिया बनवीरपुर निवासी अमजद अंसारी की पुत्री सुगी देवी कहती हैं कि शादी के बाद कुछ वर्ष बीतने के बाद भी एक भी बच्चे नहीं हो पा रहे थे। इसपर पड़ोसी हिंदू बहनों की परामर्श पर मैंने छठ पूजा के दौरान उनके साथ मन्नत मांगा कि अगर मेरी बचा पैदा हुई तो मैं इस पर्व पर व्रत करूंगी। जिसके बाद मेरी बेटी पैदा हुई तो मैंने इस बार छठ का व्रत रखा है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।