Jansandesh online hindi news

Kushinagar News  : त्रिपुरा में हमले को उजागर करने वाले लोगों पर दर्ज फर्जी मुकदमे हो वापस  

अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी के तरफ से मंगलवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया । इसमें त्रिपुरा में राज्य प्रायोजित मुस्लिम विरोधी हिंसा को उदगार करने वाले अधिवक्ताओं सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों पर दर्ज हुए गैरकानूनी के तरीके से यूएपीए के तहत फर्जी मुकदमे को वापस करने की मांग की। 
 | 
Kushinagar News  : त्रिपुरा में हमले को उजागर करने वाले लोगों पर दर्ज फर्जी मुकदमे हो वापस  
अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष की अगुवाई में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर राष्ट्रपति संबोधित मांगों का पत्र डीएम के प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा 

उपेंद्र कुशवाहा

पडरौना । अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी के तरफ से मंगलवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया । इसमें त्रिपुरा में राज्य प्रायोजित मुस्लिम विरोधी हिंसा को उदगार करने वाले अधिवक्ताओं सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों पर दर्ज हुए गैरकानूनी के तरीके से यूएपीए के तहत फर्जी मुकदमे को वापस करने की मांग की। 

अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी कुशीनगर के अध्यक्ष जाहिद कुरैशी के अगुवाई में कार्यकर्ता प्रदर्शन करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। इसके बाद प्रदर्शन करते हुए अपनी विभिन्न मांगों का मांग पत्र महामहिम राष्ट्रपति संबोधित जिला अधिकारी के गैर मौजूदगी में प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष जाहिद कुरैशी ने कहा गत दिनों त्रिपुरा में मुस्लिम समाज की इबादतगाह और उनकी संपत्तियों पर अराजक तत्वों द्वारा हमले किए गए थे।इसमें दर्जनों मस्जिदें मजारों और दुकानों को क्षति पहुंचाई गई थी।

कांग्रेस लोक सभा अध्यक्ष मोहम्मद जहरुदिन ने इस हमले की निंदा करते हुए इस घटना में राज्य की विप्लव कुमार देव सरकार के तरफ से संरक्षण प्राप्त होने का आरोप लगाया। इसके बाद राष्ट्रपति संबोधित अपनी मांग पत्र डीएमके गैरमौजूदगी में प्रशासनिक अधिकारी को त्रिपुरा के इस घटना में शामिल अधिवक्ता सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकारों पर यूएपीए के तहत फर्जी मुकदमे को वापस करने की मांग की।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।