Lucknow: कोर्ट में पेश हुईं सपना चौधरी, लग गया इतने का चूना

जनसंदेश ऑनलाइन ताजा हिंदी ख़बरें सबसे अलग आपके लिए

  1. Home
  2. उत्तर प्रदेश
  3. लखनऊ

Lucknow: कोर्ट में पेश हुईं सपना चौधरी, लग गया इतने का चूना

Image


डेस्क: डांस का कार्यक्रम रद्द करने व टिकट का पैसा भी वापस नहीं करने के एक मामले को लेकर सोमवार को मशहूर डांसर सपना चौधरी अदालत में हाजिर हुईं। इसके साथ ही अपने खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट निरस्त करने की भी गुहार लगाई।
एसीजेएम शांतनु त्यागी ने यह अर्जी मंजूर करते हुए 20 हजार का निजी मुचलका दाखिल करने का आदेश दिया। वहीं इस मामले की अगली सुनवाई पहले से 30 सितंबर के लिए नियत है।
बता दें कि बीती 22 अगस्त को अदालत ने गैरहाजिर रहने पर अभियुक्ता सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी करने का आदेश दिया था। उस रोज इस मामले में सपना समेत अन्य अभियुक्तों पर आरोप तय करने को लेकर सुनवाई थी। पर सपना चौधरी उपस्थित नही हुईं। उनकी तरफ से हाजिरी माफी की अर्जी भी नही दी गई तब अन्य अभियुक्तों की ओर से हाजिरी माफी की अर्जी दी गई थी। बीती आठ जून को इस मामले में सपना चौधरी की नियमित जमानत अर्जी सर्शत मंजूर भी हो चुकी थी।
एक मई, 2019 को इस मामले में सपना चौधरी के खिलाफ किसी व्यक्ति के विश्वास का हनन व धोखाधड़ी करने के मामले में आरोप पत्र दाखिल किया था। वहीं 20 जनवरी, 2019 को इस कार्यक्रम के आयोजक जुनैद अहमद, इवाद अली, अमित पांडेय व रत्नाकर उपाध्याय के खिलाफ आईपीसी की धारा 406 व 420 में आरोप पत्र भी दर्ज किया गया था।
जानिए क्या है पूरा मामला
बता दें कि 13 अक्टूबर, 2018 को स्मृति उपवन में दोपहर तीन बजे से रात्रि 10 बजे तक सपना समेत अन्य कलाकारों का कार्यक्रम होना था। जिसके लिए प्रति व्यक्ति तीन सौ रुपए में आनलाइन व आफलाइन टिकट भी बेचा गया था। इस कार्यक्रम को देखने के लिए हजारों टिकट धारक वहां मौजूद भी थे। लेकिन रात्रि 10 बजे तक सपना चौधरी वहां नहीं आईं, तो उन्होंने हगांमा खड़ा कर दिया। इसके बाद टिकट धारकों का पैसा भी वापस नहीं किया गया था। साथ ही 14 अक्टूबर, 2018 को इस मामले की नामजद एफआइआर एसआइ फिरोज खान ने थाना आशियाना में भी दर्ज कराई थी।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

और पढ़ें -

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश