Jansandesh online hindi news

पराली जलाने से रोकने हेतु किसानों को करें जागरूक...एडीएम

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन
 | 
फोटो

अमेठी। अपर जिलाधिकारी(वि/रा) एसपी सिंह ने आज  कलेक्ट्रेट सभागार में किसानों द्वारा पराली जलाए जाने के संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक किया। बैठक में उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों को पराली जलाने से रोकें एवं उन्हें पराली न जलाने हेतु जागरूक करें, तथा पराली जलाने से होने वाले नुकसान के बारे में उन्हें बताए। उन्होंने कहा कि स्कूलों में जन जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित किए जाए। लेखपालों व ग्राम प्रधानों, ग्राम पंचायत सचिवों द्वारा भी लोगों को जागरूक किया जाए। इसके साथ ही धान क्रय केंद्रों पर बैनर के माध्यम से तथा ब्लॉक स्तर पर गोष्ठियों के माध्यम से किसानों को जागरूक करें तथा पराली जलाने के नुकसान के बारे में बताएं। बैठक में जिला कृषि अधिकारी अखिलेश पांडे ने बताया कि भारत सरकार द्वारा संचालित फसल अवशेष प्रबंधन योजना अंतर्गत विभिन्न प्रकार के 14 यंत्र को चिन्हित किया गया है जिस पर व्यक्तिगत कृषकों को 50% अनुदान तथा एफपीओ व पंजीकृत कृषक समितियों को फॉर्म मशीनरी बैंक की स्थापना हेतु 80 प्रतिशत अनुदान पर यंत्र उपलब्ध कराया जाएगा, जिसे किसानों द्वारा क्रय किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि फसल अवशेष जलाया जाना एक दंडनीय अपराध है, यदि किसान द्वारा फसल अवशेष जलाए जाने की सूचना प्राप्त होती है तो 02 एकड़ से कम क्षेत्र के लिए रुपए 2500, 02 से 05 एकड़ क्षेत्र के लिए रुपए 5000 और 05 एकड से अधिक क्षेत्र के लिए रुपए 15,000 तक पर्यावरण कंपनसेशन की वसूली की जाएगी। अपर जिला अधिकारी ने कहा कि कृषकों के खेत से पराली संग्रह कर निराश्रित गौशालाओं में रखा जाए, पराली संग्रह हेतु आवश्यक धनराशि की व्यवस्था मनरेगा अथवा वित्त आयोग द्वारा की जाएगी तथा कृषकों के खेत से गौशाला स्थल पर पराली का उठान पशुपालन विभाग द्वारा किया जाएगा। पराली का  गोशाला स्थल पर पशु के चारा व बिछौना के उपयोग में भी लाया जाएगा। अपर जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि गौशालाओं पर *"पराली दो खाद लो"* कार्यक्रम का संचालन जनपद में वृहद् रुप में चलाया जाए।  बैठक के दौरान समस्त उप जिलाधिकारी, उप कृषि निदेशक सत्येंद्र सिंह चौहान, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अरविंद पाठक, जिला पंचायत राज अधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी अमेठी अर्पित कपूर सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।