Jansandesh online hindi news

जहरीली गैस की चपेट में आने से नाना व नाती की हुई मौत, कुँए में गिरे नाती को बचाने के लिए कुँए में नाना उतरे थे

 | 
जहरीली गैस की चपेट में आने से नाना व नाती की हुई मौत, कुँए में गिरे नाती को बचाने के लिए कुँए में नाना उतरे थे

उन्नाव

कुँए में  देर शाम गिरे बच्चे को  बचाने के लिए कुएं में उतरे नाना की भी जहरीली गैस की चपेट में आने से  दोनो लोगो की दम घुटने से मौत हो गई। खेलते समय नाती के गिरने पर नाना उसे बचाने कुएं में उतरे थे। इसके बाद दोनों को बचाने कुएं में उतरा एक युवक भी जहरीली गैस की चपेट में आ गया। युवक को  अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कुँए में गिरे बच्चे  और नाना की  सूचना मिलते ही सीओ हसनगंज और दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे।

 जानकारी के अनुसार सोहरामऊ थाना क्षेत्र के सहरावां गांव निवासी नवल किशोर सोनी  की गोसाईगंज लखनऊ निवासी बेटी मोनी 10 दिन पहले चार वर्षीय इकलौते बेटे विनायक के साथ मायके आई थी। सोमवार शाम पांच बजे बच्चा विनायक घर के बाहर खेल रहा। अचानक वह पास के कुएं में रखे पटरे में चढ़ गया। पटरा सड़ा होने से वह कुएं में गिर गया। नाती को बचाने के लिए नाना नवलकिशोर आनन-फानन कुएं में उतरे। काफी देर तक कोई हलचल न होने पर पड़ोसी  रस्सी के सहारे कुएं में उतरे। कुएं में जहरीली गैस होने से वह भी चपेट में आ गए। उसके चीखने पर ग्रामीणों ने बाहर खींच लिया। बेहोशी हालत में उसे जुनाबगंज स्थित मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।

जहरीली गैस  बचाव कार्य में लगी टीम के लिए समस्या  बनी रही। ऑक्सीजन सिलिंडर भी मंगवाए गए। कुएं में डूबे नाना व नाती को निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। कुएं में सीढ़ी डालकर अग्निशमन जवान लालटेन लेकर नीचे उतरे। 20 फिट नीचे उतरने पर लालटेन के बुझने से जहरीली गैस होने का पता चला। इस पर जवान ऊपर आ गए। कुएं में जहरीली गैस होने से बचाव कार्य रोकना पड़ा। मौके पर पहुंचे एएसपी शशिशेखर सिंह राहत कार्य का जायजा लेते रहे। विधायक अनिल सिंह व पूर्व विधायक उदयराज यादव भी मौके पर पहुंचे।कुएं में गिरे नाना व नाती को बचाने में असफल रहे ग्रामीणों की नजर बचाव कार्य के लिए गांव पहुंची पुलिस व अग्निशमन दल पर टिकी रहीं। टीम की गतिविधियों को देख ग्रामीणों को लगा कि दोनों जल्द ही बाहर निकाल लिए जाएंगे। लेकिन  चार घंटे कोशिश के बाद भी जहरीली गैस के चलते टीम सफल नहीं हो पाई थी  अग्निमशन अधिकारी शिवदरश प्रसाद ने कुएं में हाईड्रोक्लोराइट गैस के होने की आशंका जताई थी। उन्होंने बताया कि कुंए में पत्ते व कूड़ा सड़ने से यह गैस बनती है। इसके प्रभाव से लोगों की मौत हो जाती है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।