Jansandesh online hindi news

सांसद ने दी सौगात, सुपर फास्ट शटल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर लखनऊ के लिए किया रवाना

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन
 | 
फोटो

सुलतानपुर। रेल मंत्रालय ने कोरोना संकट के दौरान वरुणा एक्सप्रेस ट्रेन को बंद कर दिया था।वरुणा एक्सप्रेस को दोबारा चलाने के लिए सांसद मेनका संजय गांधी लगातार प्रयासरत थी।इस संदर्भ में सांसद श्रीमती गांधी ने लखनऊ जाने वाले यात्रियों की परेशानी को ध्यान में रखते हुए 15 जुलाई 2021 को रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को पत्र भी लिखा था।सांसद के प्रयास को संज्ञान में लेकर रेल मंत्रालय ने वाराणसी से लखनऊ के लिए शटल एक्सप्रेस चलाने का निर्णय लिया। सुल्तानपुर से लखनऊ जाने वाले दैनिक यात्रियों को सांसद ने सौगात दी है। बुधवार को सुल्तानपुर की सांसद मेनका संजय गांधी ने वाराणसी लखनऊ के बीच प्रतिदिन चलने वाली  सुपरफास्ट शटल एक्सप्रेस को सुल्तानपुर जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर 1से हरी झंडी दिखाकर सुल्तानपुर से लखनऊ के लिए रवाना किया।यह सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन वाराणसी से 6:00 बजे चलकर सुल्तानपुर 7:56 बजे ,निहालगढ़ स्टेशन 8:30 बजे तथा लखनऊ 10:10 बजे पहुंचेगी।इस ट्रेन के चलने से  लखनऊ जाने वाले दैनिक यात्रियों को काफी सहूलियत मिलेगी। सांसद में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए बताया महिलाओं के लिए शौचालय की सुविधा  सुनिश्चित की जाएगी, अयोध्या से प्रयाग की रेलवे पटरियों को अपग्रेड कराकर हाई स्पीड ट्रैक बनाने के लिए काम चल रहा है। उन्होंने कहा रेल का विकास तेजी से हो,इसके लिए डीआरएम को पत्र लिखा गया है। उन्होंने कहा लखनऊ चलने वाली शटल एक्सप्रेस से सुल्तानपुर वासियों को काफी फायदा मिलेगा।इस मौके पर एडीआर एम.बृजेश यादव,पूर्व क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ.एमपी सिंह, प्रदेश कार्य समिति सदस्य सदस्य डॉ सीताशरण त्रिपाठी, सांसद प्रतिनिधि रंजीत कुमार,सांसद मीडिया प्रभारी विजय सिंह रघुवंशी,संजय सोमवंशी, अनिल बरनवाल,विजय कुमार पांडे,काली सहाय पाठक,उपमा शर्मा, रमेश तिवारी,रामचंद्र दुबे,एलके.दुबे,पंकज दुबे,मोहित सिंह,इंद्रदेव मिश्रा,दावर खान, आकाश जायसवाल,राम अभिलाख सिंह आदि मौजूद रहे।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।