Jansandesh online hindi news

नोटों की गड्डियों पर सोने वाले पीयूष जैन फर्श पर लेट कर पूरी रात रहा बेचैन ! 

नोटों की गड्डियों पर सोने वाले पीयूष जैन को थाने की फर्श पर लेटकर रात गुजारनी पड़ी। पूरी रात वह सो नहीं सका और करवटें बदलता रहा। सुबह जानकारी हुई तो पूरी मीडिया काकादेव थाने पहुंच गई और उससे बातचीत के प्रयास में जुट गई। उसने किसी के सामने कुछ भी नहीं बताया।
 | 
नोटों की गड्डियों पर सोने वाले पीयूष जैन फर्श पर लेट कर पूरी रात रहा बेचैन  

कानपुर। देश-दुनिया में सुर्खियां बने इत्र कारोबारी पीयूष जैन ने भले ही पिछली रातें नोटों की गड्डियों पर सोकर गुजारी हों लेकिन रविवार की रात काकादेव थाने की फर्श पर लेटकर करवटे बदलते गुजरी। कानपुर और कन्नौज के घर से अबतक 280 करोड़ रुपये कैश की बरामदगी के बाद वह देश की सनसनी बन गया है। जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम ने उसकी गिरफ्तारी के बाद रात में थाने में रखा और सोमवार को कोर्ट में पेश करने के लिए ले गई है।

कर अपवंचना के संदेह पर जीएसटी इंटेलीजेंस टीम के छापे ने इत्र कारोबारी पीयूष जैन के ऐसे राज को उजागर कर दिया, जिसके सामने आने के बाद सभी आश्चर्य चकित रह गए हैं। पीयूष जैन के कानपुर के घर से 177 करोड़ रुपये और कन्नौज के घर से अबतक 103 करोड़ रुपये व सोने के जेवर की बरामदगी की गई।

जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम की कार्रवाई अभी जारी है लेकिन पूछताछ करने के बाद रविवार की रात पीयूष जैन की गिरफ्तारी की गई। जीएसटी टीम ने गिरफ्तारी के बाद कागजी कार्रवाई की गई और रविवार देर रात पीयूष जैन को काकादेव थाने लाया गया। थाने के रिकॉर्ड के मुताबिक देर रात 3:00 बजे उसे थाने में पुलिस अभिरक्षा में रखने के लिए लाया गया और रात में उसे महिला हेल्पलाइन कक्ष में रखा गया। रात में उसके लिए गद्दा और कंबल का इंतजाम किया गया।

नोटों की गड्डियों पर सोने वाले पीयूष जैन को थाने की फर्श पर लेटकर रात गुजारनी पड़ी। पूरी रात वह सो नहीं सका और करवटें बदलता रहा। सुबह जानकारी हुई तो पूरी मीडिया काकादेव थाने पहुंच गई और उससे बातचीत के प्रयास में जुट गई। उसने किसी के सामने कुछ भी नहीं बताया। सुबह करीब 10:30 बजे जीएसटी इंटेलीजेंस की टीम कल्याणपुर थाने पहुंची, इसके बाद दोपहर 12:50 पर टीम कड़ी सुरक्षा के बीच पीयूष को थाने से साथ लेकर चली गई। बताया जा रहा है कि पीयूष का पहले एलएलआर अस्पताल हैलेट में मेडिकल परीक्षण कराया गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक दोपहर बाद इत्र कारोबारी पीयूष जैन को रिमांड के लिए मजिस्ट्रेट कोर्ट से पेश किया जा सकता है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।