Jansandesh online hindi news

Ganga Expressway की पीएम मोदी ने रखी आधारशिला,  इन 12 जिलों से होकर गुजरेगा, जानें कैसे होगा सबसे खास !

Ganga Expressway News: आगरा-लखनऊ और पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के बाद यूपी में यह तीसरा एक्सप्रेसवे है, एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों और 519 गांवों को जोड़ेगा. गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण 2024 तक पूरा हो जाएगा. गंगा एक्सप्रेसवे को 26 नवंबर 2020 में मंजूरी मिली थी. जिस पर जंगी जहाजों के लिए एयर स्ट्रिप तैयार की जा रही है. गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण 2024 तक पूरा हो जाएगा. देश में इमरजेंसी के समय उत्तर प्रदेश की इन तीनों हवाई पट्टियों से भारतीय वायु सेना दुश्मन देश को करारा जवाब दे सकती है.

 | 
Ganga Expressway की पीएम मोदी ने रखी आधारशिला,  इन 12 जिलों से होकर गुजरेगा, जानें कैसे होगा सबसे खास !
  •  

​​​​​​ शाहजहांपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को उत्तर प्रदेश को गंगा एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखी. यूपी में अगले कुछ दिनों में विधानसभा चुनाव की घोषणा होने वाली है. इसके पहले पीएम मोदी ने यूपी को कई महत्वाकांक्षी परियोजनाओं की सौगात दी है, जिनमें पूर्वांचल एक्सप्रेसवे और सरयु नहर परियोजना प्रमुख है. 

गंगा_एक्सप्रेसवे

मेरठ से प्रयागराज को जोड़ने वाला गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण अगले दो से तीन साल में पूरा कर लिया जाएगा. यह राज्य के पश्चिमी हिस्से को पूरब से जोड़ेगा.गंगा एक्सप्रेसवे को 26 नवंबर 2020 में मंजूरी मिली थी. ये तीसरी एयर स्ट्रिप है, जो प्रदेश में एक्सप्रेसवे पर बनकर तैयारी होगी. इस पर हर श्रेणी का जहाज उतारा जा सकता है.

गंगा_एक्सप्रेसवे

गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण 2024 तक पूरा हो जाएगा. इससे पहले लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे और पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर एयर स्ट्रिप पहले से ही तैयार है. उत्तर प्रदेश की इन तीनों हवाई पट्टियों से वायु सेना पाकिस्तान और चीन के खिलाफ जंग की सूरत में प्रतिक्रिया दे सकती हैं. इमरजेंसी और जंग जैसे हालात में वायुसेना के विमान यहां लैंड और टेकऑफ कर सकेंगे.

गंगा एक्सप्रेसवे से भी उड़ सकेंगे राफेल और मिराज!  

गंगा_एक्सप्रेसवे

उत्तर प्रदेश के गंगा एक्सप्रेसवे (Ganga Expressway) पर भी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे (Purvanchal Expressway) की तर्ज पर एयर स्ट्रिप (Air Strip) भी बनाया जाएगा. ‘एक्सप्रेस-वे पर शाहजहांपुर में 3.5 किमी लंबी हवाई पट्टी बनाई जाएगी, जो आपातकालीन स्थिति में वायु सेना के विमानों को उड़ान भरने और उतरने में सहायता प्रदान करेगी.’ एयर स्ट्रिप को लेकर यूपीडा और वायु सेना के अधिकारी मंथन कर रहे हैं. वहीं एक्सप्रेसवे पर मिराज 2000, जगुआर, सुखोई 30 और सुपर हरक्यूलस जैसे जहाज असानी से लैंड कर सकेंगे.

गंगा_एक्सप्रेसवे

मेरठ से शुरू होने वाला गंगा एक्सप्रेस-वे देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस-वे होगा और इसके निर्माण पर करीब 36 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे. मेरठ से शुरू होने के वाला यह एक्सप्रेसवे 12 जिलों से गुजरकर प्रयागराज तक पहुंचेगा. दरअसल यह गंगा एक्सप्रेसवे यूपी से पूर्वांचल को कनेक्ट करेगा. यह एक्सप्रेस-वे यूपी के 12 जिलों मेरठ, हापुड़, बुलन्दशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं , शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और रायबरेली से होकर गुजरेगा. एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों और 519 गांवों को जोड़ेगा. माना जा रहा है कि यह 2024 तक बनकर तैयार हो जाएगा.

गंगा_एक्सप्रेसवे

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।