Jansandesh online hindi news

विकास भवन में की गई राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, शिक्षा विभाग से संबंधित बिंदुओं की समीक्षा

 | 
विकास भवन में की गई राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, शिक्षा विभाग से संबंधित बिंदुओं की समीक्षा

उन्नाव

अपर मुख्य सचिव उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग उत्तर प्रदेश जनपदीय नोडल अधिकारी एम0वी0एस0 रामी रेड्डी  व जिलाधिकारी  रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में  विकास भवन सभागार में चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, शिक्षा विभाग (बेसिक, माध्यमिक शिक्षा),नगर विकास विभाग  से संबंधित बिन्दुओं की समीक्षा बैठक का आयोजन हुआ।बैठक में शासन के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर समीक्षा करते हुये चिकित्सा विभाग, राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, शिक्षा विभाग पर गहनता से विचार किया गया। नोडल अधिकारी ने वर्तमान में जो डेंगू वायरल चल रहा है उसके संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 सत्य प्रकाश से तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि घरों के आसपास पानी जमा नही होना चाहिये, एंटी लार्वा के छिड़काव की कार्यवाही कराने के निर्देश  दिये। जिला मलेरिया अधिकारी को निर्देश देते हुये कहा वाटर सप्लाई के पानी में कन्टेन्ट देखना चाहिए, पानी में क्लोरीन कितना पी0पी0एफ0 पाया गया, क्लोरीन की मात्रा पीने के पानी में कितनी होनी चाहिए इसकी जानकारी ई0ओ0 को होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में पानी का जलभराव नहीं होना चाहिए इसे तत्काल सही कराने के निर्देश सीएमओ को दिये। अस्पताल में नर्सों की जानकारी ली।

इमरजेंसी के  आई0सी0यू0 बेड  कितने चालू हालत में हैं, उन्होंने पूछा कि संक्रमण रोग यथा डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया आदि के माह अगस्त में कितने सैंपल कलेक्ट किए गए हैं। उन्होंने सैम्पलिंग की संख्या में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा डेंगू की जांच ज्यादा से ज्यादा कराएं, सी0बी0सी0 कराएं, क्षेत्र में जाकर पर्यवेक्षण करने के निर्देश दिए। ज्वर पीड़ित की जांच करने में लपरवाही न बरती जाये। जांच ज्यादा से ज्यादा संख्या में जांच कराई जाये। जिला अस्पताल सी0एच0सी0 पी0एच0सी0 में कितने लोग भर्ती हैं जानकारी ली तथा मरीजों को भर्ती करने के निर्देश दिए। औषधियों के उपलब्धता के बारे में जानकारी ली,संदिग्ध डेंगू लक्षण वाले व्यक्ति का सैंम्पल अवश्य लें। लोगों को क्लोरीन टैबलेट्स बाटने के निर्देश दिए। उन्होंने सी एम एस को निर्देशित किया कि ब्लड बैंक में ब्लड की उपलब्धता बनाए रखने के लिए ब्लड डोनेशन कैंप लगाने के निर्देश दिए। ईओ से  फागिंग कब-कब करते हैं जानकारी ली, जल के नमूना की नियमित जांच व छिड़काव सभी ई0ओ0 करें अगले 2 दिन इसकी सूचना प्रस्तुत करें। डीएम सर ने कहा यदि कोई बाढ़ आती है तो उसके लिए क्या क्या तैयारियां हो चुकी है एसडीएम बीघापुर से पूछा खिलाने पिलाने रहने सोने की क्या-क्या व्यवस्था की जा चुकी है।

उन्होंने कहा पहले से विजिट कर लें गंगा का जल स्तर बढ़ना नहीं चाहिए उन्होंने उप जिलाधिकारी सदर से  कहा बाढ़ की तैयारी करने के साथ साथ जरूरतमंद को प्रधानमंत्री आवास योजना मुख्यमंत्री आवास योजना में तत्काल आवास उपलब्ध अवश्य कराएं। नोडल अधिकारी  को बताया गया जियो बैग लगवाए जा चुके हैं जिससे बाढ़ आने पर समस्या उत्पन्न न हो सके। नोडल अधिकारी ने बैठक में ब्लड डोनेशन, नेट बैंकिंग, सैंपलिंग, दवाओं की उपलब्धता, एंबुलेंस, चिकित्सकों की उपलब्धता आदि की स्थिति जानी। उन्होंने जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी  से कहा प्रत्येक सीएचसी का निरीक्षण करें तथा नगरपालिका का भी निरीक्षण करें पानी की समस्या नहीं होनी चाहिए इस बात का खास ख्याल रखें। उन्होंने सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के बारे में जानकारी ली उन्होंने अधिशासी अधिकारी को निर्देशित किया कि घर-घर में लाल व काला वाला बैग अवश्य वितरण करें जिससे कि लोग कूड़ा आदि रोड पर न फेंक सकें, उन्होंने जल के नमूनों की नियमित जांच कराने व छिड़काव कराने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए समस्त ग्राम पंचायतों में समस्त व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा समस्त वीडियोस को निर्देश दें कि दे जहां पर भी जलभराव की समस्या है उसे तत्काल सही कराएं। उन्होंने जानकारी ली कि कितनी ग्राम सभाओं में ठोस प्रबंधन मौजूद है। उन्होंने सभी ग्राम पंचायतों में साफ सफाई कराने व पीने के पानी की व्यवस्था की जानकारी ली।

उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी  दिव्यांशु पटेल को सप्ताह में कम से कम 3 बार ही गांव गांव जाकर निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने डीपीआरओ को निर्देशित करते हुए कहा एंटी लारवा का छिड़काव हो रहा है या नहीं अभी तक कितना परसेंट छिड़काव हो चुका है इसको स्वयं जाकर देखें। इस बात का खास ख्याल रखें साफ-सफाई गांवों में हो रही है या नहीं। पीने के पानी के पास जलभराव नहीं होना चाहिए। हैंड पंप व शौचालय को चलवाने के लिए पर्याप्त साफ-सफाई पानी की उपलब्धता पीने के पानी की व्यवस्था का कोविड-19 के परिप्रेक्ष्य में विशेष ध्यान दें, बच्चों के मास्क,सैनिटाइजर अवश्य उपलब्ध कराने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी जयसिंह को दिए। उन्होंने शिक्षकों के टीकाकरण की जानकारी ली उन्होंने कहा कुल कितने टीचर है कितनों को टीकाकरण हो गया है कितने का नहीं। जिलाधिकारी ने कहा जिला विद्यालय निरीक्षक व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी दोनों ही यह सुनिश्चित कर लें कि इस बात का कड़ाई से अनुपालन कराया जाए कि बच्चों को बिना मास्क व बिना सामाजिक दूरी के न रहने दें।  अंत में जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि नोडल अधिकारी महोदय द्वारा दिए गए निर्देश अत्यंत ही महत्वपूर्ण हैं इसका कड़ाई से बिंदुओं पर कार्य करने की आवश्यकता है। अगले 1 सप्ताह में शासन के मंशानुरूप कार्यों को पूरा कर लिया जाए, अपने जनपद को डेंगू मलेरिया आदि संक्रामक रोगों से बचाते हुए और अच्छा कार्य करें।जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी  को आश्वस्त किया कि आप द्वारा बताए गए दिशा निर्देशों का शत प्रतिशत अनुपालन करते हुए समस्त कार्यों को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा।बैठक के दौरान जिलाधिकारी  रविंद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक  अविनाश पांडेय, मुख्य विकास अधिकारी  दिव्यांशु पटेल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सत्य प्रकाश, परियोजना निदेशक डीआरडीए जिला पंचायत राज अधिकारी  यशवंत कुमार, डीईएसटीओ  राजदीप वर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित समस्त संबंधित उपस्थित रहे।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।