Jansandesh online hindi news

पटाखा फैक्टरी में भीषण विस्फोट से दहला शामली, महिला के चिथडे़ उड़े  

शामली में बाबरी थाना क्षेत्र के बुटराडा गांव में पटाखा फैक्ट्री में भयंकर विस्फोट हुआ। इसमें एक महिला की मौत हो गई। विस्फोट इतना जबरदस्त था कि पूरे गांव में अफरातफरी मच गई। फैक्ट्री में काम करने वाली एक महिला का शव चीथड़ों में बंट गया।  उसके शरीर के चिथडे़ फैक्टरी में बिखर गए। हादसे में एक महिला मजदूर की मौत हो गई। फैक्टरी की दीवार भी धराशायी हो गई।
 | 
पटाखा फैक्टरी में भीषण विस्फोट से दहला शामली, महिला के चिथडे़ उड़े  

शामली में बाबरी थाना क्षेत्र के बुटराडा गांव में पटाखा फैक्ट्री में भयंकर विस्फोट हुआ। इसमें एक महिला की मौत हो गई। विस्फोट इतना जबरदस्त था कि पूरे गांव में अफरातफरी मच गई। फैक्ट्री में काम करने वाली एक महिला का शव चीथड़ों में बंट गया।  उसके शरीर के चिथडे़ फैक्टरी में बिखर गए। हादसे में एक महिला मजदूर की मौत हो गई। फैक्टरी की दीवार भी धराशायी हो गई। जब तक पुलिस और ग्रामीण मौके पर पहुंचते, फैक्टरी संचालकों ने महिला के शव के टुकड़े एक बोरे में भरकर पास ही मौजूद गन्ने के खेत में फेंक दिए गए। अन्य महिला मजदूरों को उनके घर भेज दिया गया। 

वहीं महिला की मौत से गुस्साए परिजनों ने हंगामा करते हुए घंटों तक शव नहीं उठने दिया। सूचना पर गन्ना मंत्री सुरेश राणा भी मौके पर पहुंचे। फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच की। इसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी फैक्टरी संचालक को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने फैक्टरी संचालक से कई घंटे तक पूछताछ कीहै।

बुटराड़ा निवासी रिजवान पुत्र महमूद की गांव में बाहरी छोर पर पटाखा फैक्टरी है। उसके पास 15 किग्रा बारूद से फुलझड़ी बनाने का लाइसेंस है। लेकिन अवैध रूप से फैक्टरी में अन्य प्रकार के पटाखे भी बनाए जा रहे थे।

वहीं सोमवार दोपहर करीब एक बजे फैक्टरी में काम कर रहे मजदूर खाना खाने की तैयारी कर रहे थे। एक महिला बारूद के ढेर के पास मौजूद थी। तभी अचानक भीषण विस्फोट के साथ आग लग गई। जिससे आसपास के मकान भी दहल गए और फैक्टरी की दीवार धराशायी हो गई। 

ग्रामीण और पुलिस मौके पर पहुंचे तो फैक्टरी में कोई नहीं मिला। कई जगह मांस के लोथड़े बिखरे हुए थे। काफी देर बाद फैक्टरी के पास ही ईख के खेत में महिला मजदूर वीरमति पत्नी नवाब के शव के टुकड़े बोरे में मिले। 

घटना की सूचना मिलने पर पहुंचे वीरमति के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने घंटों तक पुलिस को शव नहीं उठाने दिया। गन्ना मंत्री सुरेश राणा भी मौके पर पहुंचे और शोकाकुल परिजनों को सांत्वना दी और शासन-प्रशासन से हरसंभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया। फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल की। इसके बाद शव के टुकड़े पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।