Jansandesh online hindi news

Crime News : सपा नेता मान सिंह जाली नोटों के कारोबार में लखनऊ से गिरफ्तार, ऐसे हुआ पर्दाफाश !

Crime News : गाजीपुर पुलिस ने जाली नोटोंं के कारोबार के आरोप में सपा के जिला पंंचायत सदस्य राजा मान सिंह को गिरफ्तार किया है। वह अयोध्या की मसौधा द्वितीय सीट से जिला पंंचायत सदस्य है। असली नोट लेकर उसके बदले में पांच गुना अधिक नकली नोट देने का झांसा देकर लोगों से ठगी करता था।
 | 
Crime News

लखनऊ। गाजीपुर पुलिस ने जाली नोटोंं के कारोबार के आरोप में सपा के जिला पंंचायत सदस्य राजा मान सिंह को गिरफ्तार किया है। वह अयोध्या की मसौधा द्वितीय सीट से जिला पंंचायत सदस्य है। असली नोट लेकर उसके बदले में पांच गुना अधिक नकली नोट देने का झांसा देकर लोगों से ठगी करता था। नोटोंं की गड्डियों मेंं ऊपर तो असली नोट रखता था, लेकिन उसके नीचे उसी के आकार के कागज के टुकड़े लगा देता था। पुलिस ने रविवार रात उसे धर दबोचा।

इंस्पेक्टर गाजीपुर अनिल कुमार सिंह ने बताया कि राजा मान सिंह के खिलाफ विभिन्न थानों में 14 मुकदमें दर्ज हैं। वह अयोध्या के पुराकलंदर थानाक्षेत्र के सरियावा गांवं का रहने वाला है। उसके पास से एक स्कार्पियो कार भी बरामद की है। इसके अलावा एक थैला मिला है जिसमें कागज के टुकड़े मिले हैं। इसके अलावा 500 और 100 के कुछ नोट भी मिले हैं। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है।

इंस्पेक्टर ने बताया कि मान सिंह शनिवार को यहां विभूतिखंड स्थित हयात होटल में रुका था। उसने जानकीपुरम में रहने वाले व्यवसायी पवन कुमार को 10 लाख के असली नोटों के बदले 50 लाख के नकली नोट देने का दावा किया था। पवन को होटल बुलाकर उसने 10 गड्डियां दी। जिसमें 500 और 100 के नोट लगे ऊपर और नीचे लगे थे। बाकी गड्डी में कागज के टुकड़े नोटों के बराबर थें। यह गड्डी पवन को नकली नोट बताकर थैले में दिए थे। पवन को रुपये होटल के बाहर दिए। इसके बाद वह चला गया। पवन ने जब रुपये चेक किए तो उसमें असली नोटों के बीच कागज के टुकड़े मिले। इसके बाद उसने थाने में तहरीर दी। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आरोपित मान सिंह को रविवार रात क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।