Jansandesh online hindi news

अचानक पेट्रोल पंप कर्मी रातोंरात बना लखपति, खाते में आये 76.20 लाख रुपये, फिर जमकर 35 लाख की खरीदारी, और अब ...!

पेट्रोल पंप पर काम करने वाले कर्मचारी की किस्मत रातों रात खुल गई. अचानक से उसके बैंक अकाउंट  में 76.20 लाख रुपये आ गए. रातोंरात लखपति बने पेट्रोल पंप कर्मी ने महंगी कार से लेकर सोने चांदी के गहने और बाइक भी खरीदी. पांच दिन में उसने 35 लाख रुपये खर्च कर दिए. लेकिन उसकी यह ख़ुशी ज्यादा दिन नहीं रही.

 | 
अचानक पेट्रोल पंप कर्मी रातोंरात बना लखपति, खाते में आये 76.20 लाख रुपये, फिर जमकर 35 लाख की खरीदारी, और अब ...!
 

Lucknow News: मिली जानकारी के मुताबिक मौरांवा थाना क्षेत्र के बहावा निवासी करन शर्मा असोहा थाना क्षेत्र के सेलवैया में परिवार के साथ रहता है. दो साल से वह लखनऊ के बंथरा थाना क्षेत्र के बनी गांव में रहकर पेट्रोल पंप में काम कर रहा है. उसका बनी स्थित सेंट्रल बैक ऑफ इंडिया में खाता है. बैंक की गड़बड़ी और सर्वर की खराबी के कारण 15 दिन पहले करन के खाते में 76.20 लाख जमा हो गए. करन पर आरोप है कि मैसेज आने पर उसने न तो इसकी जानकारी बैंक को दी और न ही पुलिस को. उसने अपने डेबिड कार्ड से रुपये निकालना शुरू कर दिया.

लखनऊ . राजधानी लखनऊ (Lucknow) के बंथरा स्थित एक पेट्रोल पंप पर काम करने वाले कर्मचारी की किस्मत रातों रात खुल गई. अचानक से उसके बैंक अकाउंट (Bank Account) में 76.20 लाख रुपये आ गए. बैंक की गलती से रातोंरात लखपति बने पेट्रोल पंप कर्मी ने महंगी कार से लेकर सोने चांदी के गहने और बाइक भी खरीदी. पांच दिन में उसने 35 लाख रुपये खर्च कर दिए. लेकिन उसकी यह ख़ुशी ज्यादा दिन नहीं रही. जब बैंक को गलती का पता चला तो बंथरा पुलिस (Police) से शिकायत की गई. इसके बाद पेट्रोल पंप कर्मी पत्नी समेत जेल की सलाखों के पीछे चला गया. पुलिस ने आरोपी के पास से 41.20 लाख रुपये की वसूली की है.

मिली जानकारी के मुताबिक मौरांवा थाना क्षेत्र के बहावा निवासी करन शर्मा असोहा थाना क्षेत्र के सेलवैया में परिवार के साथ रहता है. दो साल से वह लखनऊ के बंथरा थाना क्षेत्र के बनी गांव में रहकर पेट्रोल पंप में काम कर रहा है. उसका बनी स्थित सेंट्रल बैक ऑफ इंडिया में खाता है. बैंक की गड़बड़ी और सर्वर की खराबी के कारण 15 दिन पहले करन के खाते में 76.20 लाख जमा हो गए. करन पर आरोप है कि मैसेज आने पर उसने न तो इसकी जानकारी बैंक को दी और न ही पुलिस को. उसने अपने डेबिड कार्ड से रुपये निकालना शुरू कर दिया.

करन शर्मा ने 15.71 लाख कीमत की एक कार, 18.50 लाख के सोने-चांदी के जेवर, मोबाइल, बाइक व अन्य खरीदारी पर पांच लाख रुपये खर्च किए. जब बैंक को गलती की जानकारी हुई तो प्रबंधक नेहा गुप्ता की तहरीर पर पुलिस ने करन व उसकी पत्नी आंचल सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की. पुलिस को करन शर्मा के पास से खरीदे गए वाहन व जेवर सहित 41.21 लाख रुपये मिले हैं. बंथरा एसओ अजय प्रताप सिंह ने बताया कि पति-पत्नी को शनिवार दोपहर कोर्ट ने जेल भेज दिया है.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।