Jansandesh online hindi news

जनपद उन्नाव में धूमधाम से मनाया गया शिक्षक दिवस

 | 
जनपद उन्नाव में धूमधाम से मनाया गया शिक्षक दिवस
उन्नाव 
भारत के पूर्व राष्ट्रपति महान शिक्षाविद डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्म दिवस के अवसर पर बेसिक शिक्षा विभाग  द्वारा शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। डायट सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी  रविंद्र कुमार  थे।शिक्षक सम्मान समारोह की सूचना मिलते ही अपनी बैठक समाप्त कर  डाइट सभागार में उपस्थित हुए उनके साथ जिलाधिकारी , मुख्य विकास अधिकारी , जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  ने सभागार में प्रवेश किया, सभागार में उपस्थित लगभग एक सैकड़ा शिक्षकों ने तालियों की गड़गड़ाहट से अपर मुख्य सचिव महोदय का अभिनंदन किया। शासन के निर्देशानुसार डॉ राधाकृष्णन की जयंती के अवसर पर जनपद के 75 बेसिक शिक्षकों जिनमें प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, शासकीय सहायता प्राप्त, अशासकीय, कस्तूरबा गांधी आवासीय विश्वविद्यालय के 75 उत्कृष्ट शिक्षकों को जनपद स्तर पर जिलाधिकारी महोदय द्वारा सम्मानित किया जाना था। साथ ही गत वर्ष राज्य पुरस्कार से सम्मानित डॉ रश्मि तिवारी जिन्हें कि कोरोना वायरस प्रभाव के कारण मुख्यमंत्री  द्वारा राज्य पुरस्कार नहीं प्राप्त हो सका उन्हें भी जनपद स्तर पर पगड़ी, शॉल व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया जाना था। कार्यक्रम का शुभारंभ अपर मुख्य सचिव व अन्य अतिथियों ने मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलन कर व माल्यार्पण कर किया इसके उपरांत विकासखंड सरोसी की शिक्षिका  श्रुति सिंह ने मां सरस्वती की वंदना प्रस्तुत की। इसके उपरांत डॉ रश्मि तिवारी को अपर मुख्य सचिव  ने पगड़ी पहनाकर व शाल ओढ़ाकर राज्य स्तरीय पुरस्कार से सम्मानित किया। 
सभी शिक्षकों ने तालियों की गड़गड़ाहट से उनका सम्मान बढ़ाया। इसके उपरांत जनपद  के सभी विकास खंडों से मिलाकर 75 शिक्षकों को अपर मुख्य सचिव व जिलाधिकारी के साथ मुख्य विकास अधिकारी  ने प्रमाण पत्र व स्मृति पत्र देकर सम्मानित किया। 
सर्वप्रथम विकासखंड नवाबगंज से मयंक बाजपाई, राकेश तिवारी, सुनीता,  अनीता वर्मा तथा भरत चित्रांशी को माल्यार्पण कर सम्मानित किया गया। इसके उपरांत खंड शिक्षा अधिकारी मुख्यालय अजीत निगम ने क्रमशः सभी शिक्षकों को नाम पुकार कर मंच पर आने को आमंत्रित किया। जिन्हें क्रमशः जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  ने माल्यार्पण व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।स्काउट गाइड के बच्चों ने कदमताल व मार्च पास्ट के साथ अतिथियों को गंतव्य तक पहुंचाया स्वागत तालियों के साथ अतिथियों का भव्य स्वागत किया गया।
कार्यक्रम का संचालन डा रचना सिंह व  शिखा मिश्रा ने किया। अन्य सम्मानित शिक्षकों में राष्ट्रपति पुरस्कार विजेता  स्नेहिल पांडे,  कपिल त्रिवेदी,  विनय दीक्षित, अनुदीप श्रीवास्तव  चंद्रकांत शर्मा , वंदना त्रिवेदी जिला स्काउट कैप्टन सोनू सिंह, शैलेश कुमार, सरिता गुप्ता, हुमा वशी, ओबैदा फातिमा, तैमूर अहमद, मंजू कनौजिया, मोनिका शुक्ला, पूजा अग्रवाल, अंजू रंजना इत्यादि सम्मिलित रहे। सम्मान समारोह में सभी विकास खंडों के खंड शिक्षा अधिकारी दिनेश सिंह, राकेश कुमार, मधुलिका बाजपेई, सुरेंद्र कुमार मौर्य, नसरीन फारुकी, राजेश कटियार, अशोक सिंह, आशीष चौहान ने भी शिक्षकों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर एसआरजी ग्रुप के सदस्य अखिलेश चंद्र शुक्ला भी उपस्थित रहे। शिक्षकों को संबोधित करते हुए करते हुए  जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  जयसिंह ने रामायण का प्रसंग छेड़ा उन्होंने शिक्षकों को विकास और विनाश  में अंतर करने व बेसिक शिक्षा के उत्थान हेतु निरंतर प्रयासरत रहने की सलाह दी। 
साथ ही साथ बेसिक शिक्षा अधिकारी  ने अपने को अभिभावक की भांति मानने को कहा उन्होंने कहा अभिभावक का दायित्व है, यदि शिक्षक शिक्षण कार्य व विद्यालय में अन्य दायित्वों का निर्वहन न करें तो उन्हें दंड मिलना भी स्वाभाविक है। दंड का उद्देश्य उन्हें ठेस पहुंचाना नहीं बल्कि अक्षय कार्यक्रमों के लिए जगाना है।उन्होंने सभी शिक्षक परिवार को व जनपद के समस्त शिक्षकों को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की और साथ ही शिक्षकों को अन्य कार्यक्रमों के लिए प्रेरित किया उन्होंने कहा कि मैं जनपद के अन्य सभी उत्कृष्ट शिक्षकों को बुला कर पुरस्कृत करूंगा ।कार्यक्रम का समापन खंड शिक्षा अधिकारी मुख्यालय अजीत कुमार निगम ने सभी को धन्यवाद व आए हुए अतिथियों को आभार प्रकट करने के साथ किया।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।