Jansandesh online hindi news

पुलिस द्वारा अपने आपको पीडिता दिखाकर अपने ही घर में चोरी की घटना को अन्जाम देने वाली अभियुक्ता गिरफ्तार  

रिपोर्ट:सैय्यद मकसूदुल हसन
 | 
फोटो
घटना का सफल अनावरण किया गया

 
  सुल्तानपुर। थाना धनपतगंज पर सूचना मिली कि थाना क्षेत्र अन्तर्गत भीखनपुर में रात में दो अज्ञात चोरो द्वारा चोरी घटना को अन्जाम दिया गया ।  पीड़िता किरन जयसवाल पत्नी मनोज जयसवाल निवासी भीखनपुर द्वारा तहरीर दी गयी कि रात में छत के रास्ते दो व्यक्ति मेरे घर में घुसे तथा घर की लाइट बन्द कर दिये जब में रात लगभग 11 बजे बाथरुम करने जा रही थी तो पीछे से एक व्यक्ति ने मुझे पकड कर स्प्रे टाइप का कुछ पदार्थ डाला जिसके कारण मै अर्धमुर्छित हो गयी तथा दीवाल पर धक्का मारा जिससे मैं घायल हो गयी और उन व्य़क्तियों द्वारा मेंरे घर में रखा सामान चोरी कर लिये तहरीर के आधार पर थानास्थानीय पर मु0अ0सं0-237/21 धारा 323/457/380 भा0द0वि बनाम अज्ञात के विरुद्ध पंजीकृत किया गया था .
घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर डॉ विपिन कुमार मिश्र ने तत्काल टीमों का गठन किया । अपर पुलिस अधीक्षक विपुल कुमार श्रीवास्तव के निकट पर्यवेक्षण और क्षेत्राधिकारी बल्दीराय राजाराम चौधरी  के कुशल नेतृत्व में थानाध्यक्ष धनपतगंज मनोज कुमार शर्मा पुलिस टीम द्वारा जमीनी सूचना तथा अभिसूचना तंत्र विकसित करते हुए अभियुक्ता किरन पत्नी मनोज जायसवाल निवासी भीखरपुर थाना धनपतगंज  जनपद सुलतानपुर को गिरफ्तार किया गया । पूछताछ पर किरन पत्नी मनोज जायसवाल निवासी भीखरपुर थाना धनपतगंज जनपद सुलतानपुर बताया गया  कि साहब मेरे पति कि स्थिति ठीक नही थी रुपया पैसा नही था तथा घर पर मेरे अलावा कोई नही था मैने उक्त घटना की प्लानिंग दिनांक 26.09.21 को की थी मैं अशोक मेडिकल स्टोर से नींद की गोलियां लायी थी तथा रामनरायन विश्वकर्मा के यहां से आरी ब्लेड तालों को काटने की भी लायी थी  घटना कि रात करीब 11.17 बजे मै अपने पति से बात करने के बाद मैने नींद की गोलिया अपने बेटे को पहले से खिलाकर उसका हाथ पैर बांध कर घऱ के बाहर लिटा दिया था तथा घऱ में चोरी करने के बाद मैने अपना सिर दीवार से लडाकर फोड लिया तथा बाद में स्वयं भी नींद की गोलिया खाकर जानबूझ कर हल्ला गुहार करने पर रात करीब 2.00 बजे मेरे पास पडोस के लोग आये थे जिन्हे मैंने अपने लडके के गायब होने के बारे में बताया तब रात में सभी लोग मेरे लडके को बाहर से उठाकर लाये जिन्हे मैं जान-बूझकर बाहर हाथ पैर बांधकर लिटाया था कि लोगो के मेरे ऊपर शक न हो। और उक्त चोरी के सामान को मैने अपने किचन में चावल के डिब्बे में छिपाकर रख दिया था तथा उक्त चोरी मैने अपने ससुर एवं देवर के कमरो में की थी तथा अपने भी जेबर उक्त चोरी के सामान में रख दिये थे जिससे कि कोई भी मुझ पर शक न करे कि उक्त चोरी मैने की है ।  अभियुक्ता द्वारा अपना जुर्म स्वीकार किया गया अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है ।

*मु0अ0सं0*- 232/21 457/380/411/342/211 भा0द0वि0
                                   
*बरामदगी*
1- 15 अदद  पायल सफेद धातु  2. दो जोडी सफेद धातु का मंगलसूत्र 4. एक जोडी जेन्टस पीले धातु की अंगूठी 5. दो गले का पीले धातु का लाकेट 6. एक पीले धातु की बिन्दी 7. एक पीले धातु की लेडिज रिंग 8. एक पांव जेब सफेद धातु 9- एक जोडी बच्चे का छोटा कडा सफेद धातु का  10. एक अदद जोडी सफेद धातु  का बिछुआ 11-.एक अदद कमर की करधन सफेद धातु की 12-.एक अदद पीले धातु की चैन 13-. दो अदद लेडीज रिंग पीले धातु का  14-. एक अदद रिंग पीले धातु का जेन्टस  15. एक जोडी  कान का झाला पीले धातु  का 16-. एक  अदद माथ की बिदिंया पीले धातु की 17-. एक अदद नाक की नथिया पीले धातु की 18-.दो अदद नाक की कील 19-. एक अदद गले का लाकेट बडे आकार का 20. एक अदद कमर की करधन सफेद धातु का 21. दो जोडी पायल सफेद धातु  22. एक अदद पीली धातु का गले का हार 23.एक जोडी जेन्टस पीले धातु की अंगूठी 24.एक अदद पीले धातु की माथ बिंदी 25. एक अदद पीले धातु की चैन 26. एक जोडी पांव जेब 27. एक जोडी पायल सफेद धातु की 28. 19 जोडी  व 01 पीस महरूम कलर मय नग युक्त बिच्छुवा

*घटना में प्रयुक्त उपकरण बरामद*
1.पेंचकस, प्लास, आरीब्लेड

गिरफ्तार करने का स्थान-   अभियुक्ता के घर ग्राम भीखरपुर  थाना धनपतगंज जनपद सुलतानपुर

*घटना का वर्क आउट करने वाली पुलिस टीम* –
1.थानाध्यक्ष श्री मनोज कुमार शर्मा 
2. उ0नि0 सुरेश कुमार पटेल
3.का0 आसिम मलिक  4. का0 सुन्दर सिंह  5. म0का0 राजकुमारी गुप्ता

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।