Jansandesh online hindi news

युवक ने आत्महत्या के मामले में पुलिस पर सुलह दवाब बनाने का लगाया आरोप

 | 
युवक ने आत्महत्या के मामले में पुलिस पर सुलह दवाब बनाने का लगाया आरोप

उन्नाव।

जनपद के बारा सागर थाना क्षेत्र में एक युवक ने भाई को आत्महत्या के लिए प्रेरित कर मानसिक उत्पीड़न करने के मामले में पुलिस पर सुला करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है ।जानकारी के अनुसार राजकुमार पुत्र राम प्रसाद निवासी ग्राम मंगल खेड़ा पोस्ट दुंदरपुर द्वितीय थाना बारा  सागर ने बताया कि विगत दिवस उसके भाई अरविंद कुमार उम्र 23 साल की शादी सुशीला पुत्री रामनाथ निवासी ग्राम पुरेनाथ  बरुवाहार थाना सरेनी रायबरेली से तय हुई थी।

विगत कई महीनों से दोनों की बातचीत फोन के जरिए होती थी किंतु 1 हफ्ते पूर्व से सुशीला भाई अरविंद पर शादी में खर्चा के लिए ₹100000 की मांग कर रही थी जिसे देने में मेरा भाई असमर्थ था। जिसके बाद भाई को ₹100000 देने से मना करने पर मेरे भाई को सुशीला मानसिक रूप से प्रताड़ित करती थी। जिसके बाद भाई ने दिनांक 4/7/ 2021 की रात को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली ।जिस के प्रमाण  हत्या से पूर्व व्हाट्सएप में  हुई वार्तालाप के अंश  हैं ।आत्महत्या की घटना के बाद परिजनो ने  तत्काल पुलिस को सूचना दी ।सूचना  मिलते ही थाने के हलका इंचार्ज रविंद्र मालवीय ने  घटनास्थल पहुचकर  मामले को जानने के बाद पोस्टमार्टम की कार्यवाही करने की बजाय सुलह समझौता करने के लिए परिजनों पर दवाब बनाया।

जब परिजन सुलह समझौते के लिए राजी नहीं हुए तो हलका इंचार्ज रविंद्र मालवीय ने शव को मोर्चरी जिला अस्पताल पहुंचाकर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी की ।वहीं इस मामले में आत्महत्या करने वाले युवक अरविंद के भाई राजकुमार ने आरोप लगाया  कि मेरे भाई ने आत्महत्या सुशीला के मानसिक रूप से परेशान करने के बाद भाई ने मेरी आत्महत्या की है ।जिसके  सबूत उसके पास है आत्महत्या से पूर्व हुई व्हाट्सएप पर चैट के अंश है लेकिन सबूत होने के बाद  पुलिस कार्यवाही नहीं कर रही है और जबरन सुलह समझौते का दबाव बना रही है शिकायत करने वाले मृतक के भाई राजकुमार ने बताया कि मेरे भाई की हत्या के लिए सुशीला और उसका पिता रामनाथ दोषी है थाने स्तर से कारवाई ना होता देख राजकुमार ने जनपद के अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह से मुलाकात की और मामले में दोषियों के विरुद्ध  मुकदमा लिखकर कड़ी से कड़ी कार्रवाई एवं आरोपियो की  गिरफ्तारी की मांग की।