Jansandesh online hindi news

आज जिला पंचायत के 72 सदस्य मताधिकार के माध्यम से सुनाएंगे फैसला
 

 | 
आज जिला पंचायत के 72 सदस्य मताधिकार के माध्यम से सुनाएंगे फैसला

आदित्य मिश्र की रिपोर्ट

हरदोई - जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर भाजपा की प्रेमावती और सपा की मुन्नी के बीच मुकाबला है। आज तीन बजे से होने वाली मतगणना के बाद भाग्य का फैसला हो जाएगा। जिला पंचायत के 72 सदस्य मताधिकार के माध्यम से फैसला सुनाएंगे।जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए दोनों ही प्रत्याशियों की पार्टी के पदाधिकारियों, समर्थकों और स्वजन जिला पंचायत सदस्यों से संपर्क में जुटे हुए हैं। अपने पक्ष में मताधिकार के लिए सभी रणनीति लगा रहे हैं। जिला पंचायत सदस्यों को अपने पक्ष में करने के लिए जोर-जुगाड़ से भी चूक नहीं रहे हैं। शनिवार को सुबह 11 बजे से तीन बजे तक मतदान होगा। तीन बजे से मतगणना होगा। मतदान और मतगणना के समय राज्य निर्वाचन आयोग से नियुक्त प्रेक्षक प्रमोद कुमार उपाध्याय मौजूद रहेंगे

निरक्षर अनरिया सहित सात सदस्यों को मिले सहयोगी
जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर आज (शनिवार को) होने वाले मतदान में सात सदस्यों को निर्वाचन अधिकारी जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने सहयोगी प्रदान किए हैं। परिवार के सदस्यों को मताधिकार में सहयोग के लिए अनुमति दी गई है। सहयोगियों को अपना पहचान-पत्र लाना होगा। मतदान कक्ष में घोषणा-पत्र भरने के बाद ही मताधिकार में जिला पंचायत सदस्य की मदद कर सकेंगे।

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए दो प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। दोनों प्रत्याशियों सहित 72 सदस्य जिला पंचायत को मताधिकार प्राप्त है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि सात जिला पंचायत सदस्यों ने मताधिकार में मदद के लिए सहयोगी की मांग की थी। आवेदन-पत्रों और अन्य अभिलेखों के परीक्षण के बाद सभी सातों सदस्यों को मताधिकार में मदद के लिए सहयोगी प्रदान कर दिए गए हैं। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से दी गई व्यवस्था के तहत जिला पंचायत के सदस्य के पारिवारिक सदस्य को ही मताधिकार के समय कलेक्ट्रेट में मतदान कक्ष तक प्रवेश और मताधिकार में मदद की अनुमति दी गई है।

सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी वीएल भार्गव ने बताया कि जिला पंचायत सदस्य अनरिया सहित रामरानी, जन्नती, शांती, जयदेवी, सुशीला देवी एवं माधुरी सिंह को सहयोगी प्रदान किए गए हैं। अनुमति के साथ सहयोगी संबंधित सदस्य के साथ मतदान के लिए कलेक्ट्रेट में प्रवेश पा सकेंगे। मतदान से पहले उन्हें एक घोषणा-पत्र भरना होगा।