Jansandesh online hindi news

यूपी विधानसभा चुनाव : चुनाव में ऐसा तोप दागूंगा कि बीजेपी के नेता ही स्वाहा हो जाएंगे : स्वामी प्रसाद मौर्य

भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है. रोजगार और समन्वय मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है. आज मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को अपना इस्तीफा सौंपा. स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में मानो भूचाल आ गया हो. इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने बातचीत में कहा कि उत्तर प्रदेश की राजनीति स्वामी प्रसाद मौर्य के इर्द-गिर्द घूमती है.
 | 
यूपी विधानसभा चुनाव : चुनाव में ऐसा तोप दागूंगा कि बीजेपी के नेता ही स्वाहा हो जाएंगे : स्वामी प्रसाद मौर्य

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है. रोजगार और समन्वय मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है. आज मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को अपना इस्तीफा सौंपा. स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में मानो भूचाल आ गया हो. इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने बातचीत में कहा कि उत्तर प्रदेश की राजनीति स्वामी प्रसाद मौर्य के इर्द-गिर्द घूमती है. मौर्य ने आगे कहा कि जिन नेताओं लगता था कि वो बहुत बड़े तोप हैं, उस तोप को 2022 के चुनाव में ऐसा दागूंगा कि बीजेपी के नेता ही स्वाहा हो जाएंगे. 

उत्तर प्रदेश में चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद नेताओं के दल बदलने का सिलसिला शुरू हो गया है. योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी का साथ छोड़ दिया है जिसे सत्ताधारी पार्टी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. ओबीसी समुदाय के बड़े नेता माने जाने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने श्रम मंत्री पद से इस्तीफा देकर समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है.

बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव से ठीक पहले वो मायावती की पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे. समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य के तेवर गर्म दिखे और उन्होंने बीजेपी पर हमला भी शुरू कर दिया. उन्होंने कहा, 'उत्तर प्रदेश की राजनीति स्वामी प्रसाद मौर्य के चारों तरफ घूमती है. जिन नेताओं को घमंड था कि वो बहुत बड़े तोप हैं उस तोप को मैं 2022 के चुनाव में ऐसा दागूंगा, ऐसा दागूंगा कि उस तोप से भारतीय जनता पार्टी के नेता ही स्वाहा हो जाएंगे.' 

जानकारी के मुताबिक मौर्य अपने बेटे और कुछ चुनिंदा कार्यकर्ताओं के लिए बीजेपी का टिकट चाहते थे जिसपर बात नहीं बनने से उन्होंने नाराज होकर पार्टी छोड़ दी. उनका इस्तीफा लेकर बीजेपी एमएलए रोशन लाल राजभवन पहुंचे. बीजेपी छोड़ने के बाद उन्होंने ऐलान किया कि चुनाव लड़ने वाले साथियों का नाम दो दिन में जारी करूंगा. स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ बांदा के तिंदवारी सीट से बीजेपी के विधायक बृजेश प्रजापति ने भी इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि पांच सालों तक सीएम और प्रदेश अध्यक्ष से शिकायत करते रहे लेकिन किसी ने नहीं सुनी.

 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।