Jansandesh online hindi news

यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा काशी का रुख करेंगी 

 | 
यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा काशी का रुख करेंगी 

नरेंद्र मोदी के बाद अब आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह भी काशी में हाजिरी लगाएंगे. हालांकि, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह तीनों नेताओं के काशी जाने की तारीख तय नहीं हुई है. बताया जा रहा है कि सावन माह में ये तीनों नेता काशी का दौरा कर सकते हैं. माना जा रहा है अलग-अलग दलों के ये नेता हिंदू वोटर्स को खुश करने की कोशिश करेंगे.
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यदुवंशियों का संगठन काशी विश्वनाथ दल ने कुछ दिन पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव को काशी आने का न्‍योता दिया है. यदुवंशियों का संगठन काशी विश्वनाथ दल वर्ष 1952 से सावन के पहले सोमवार को श्री काशी विश्वनाथ का जलाभिषेक करता आया है. बीते दिनों दल के जंत्रलेश्वर यादव लखनऊ जाकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को यदुवंशियों के जत्थे में शामिल होकर श्री काशी विश्वनाथ का जलाभिषेक करने का न्यौता दिया था.
काशी विश्वनाथ दल के आमंत्रण पर अखिलेश यादव ने हामी भरी थी. अखिलेश यादव का काशी दौरा यूपी के विधानसभा चुनावों को देखते हुए अहम माना जा रहा है.माना जा रहा है कि अखिलेश यादव अपने दौरे के दौरान पार्टी के पूर्वांचल के प्रमुख नेताओं से प्रदेश के आगामी विधानसभा की चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस सावन महीने में काशी विश्‍वनाथ के दर्शन कर पूजा पाठ करेंगी. बताया जा रहा है कि दर्शन पूजन के साथ प्रियंका गांधी वाराणसी में पार्टी के पुराने कांग्रेसी नेताओं से भी मिलेंगी. इसके बाद वह वाराणसी और आसपास के अन्य जिलों के गांवों का भ्रमण कर पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं, महिलाओं, युवाओं और किसानों से संवाद करेंगी.यूपी कांग्रेस के एक नेता के मुताबिक प्रियंका के काशी दौरे की तारीख तय नहीं है.
उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी आम आदमी पार्टी एक बार फिर पूर्वांचल में अपनी चुनावी जमीन तैयार करने की कोशिश कर काशी को अपना सियासी केंद्र बनाने का प्रयास करेगी. आप के नेताओं ने बताया कि पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह भी जल्द ही वाराणसी जाएंगे और आगामी चुनाव की रणनीति पर पार्टी के पूर्वांचल के नेताओं से चर्चा करेंगे. वर्ष 2014 में आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से लोकसभा चुनाव हार चुके हैं.बताया जा रहा है कि नरेंद्र मोदी के बाद अब आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह भी काशी में हाजिरी लगाएंगे.हालांकि, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह तीनों नेताओं के काशी जाने की तारीख तय नहीं हुई है. बताया जा रहा है कि सावन माह में ये तीनों नेता काशी का दौरा कर सकते हैं. माना जा रहा है अलग-अलग दलों के ये नेता हिंदू वोटर्स को खुश करने की कोशिश करेंगे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यदुवंशियों का संगठन काशी विश्वनाथ दल ने कुछ दिन पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव को काशी आने का न्‍योता दिया है. यदुवंशियों का संगठन काशी विश्वनाथ दल वर्ष 1952 से सावन के पहले सोमवार को श्री काशी विश्वनाथ का जलाभिषेक करता आया है. बीते दिनों दल के जंत्रलेश्वर यादव लखनऊ जाकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को यदुवंशियों के जत्थे में शामिल होकर श्री काशी विश्वनाथ का जलाभिषेक करने का न्यौता दिया था.
काशी विश्वनाथ दल के आमंत्रण पर अखिलेश यादव ने हामी भरी थी. अखिलेश यादव का काशी दौरा यूपी के विधानसभा चुनावों को देखते हुए अहम माना जा रहा है.माना जा रहा है कि अखिलेश यादव अपने दौरे के दौरान पार्टी के पूर्वांचल के प्रमुख नेताओं से प्रदेश के आगामी विधानसभा की चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस सावन महीने में काशी विश्‍वनाथ के दर्शन कर पूजा पाठ करेंगी. बताया जा रहा है कि दर्शन पूजन के साथ प्रियंका गांधी वाराणसी में पार्टी के पुराने कांग्रेसी नेताओं से भी मिलेंगी. इसके बाद वह वाराणसी और आसपास के अन्य जिलों के गांवों का भ्रमण कर पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं, महिलाओं, युवाओं और किसानों से संवाद करेंगी.यूपी कांग्रेस के एक नेता के मुताबिक प्रियंका के काशी दौरे की तारीख तय नहीं है.
उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी आम आदमी पार्टी एक बार फिर पूर्वांचल में अपनी चुनावी जमीन तैयार करने की कोशिश कर काशी को अपना सियासी केंद्र बनाने का प्रयास करेगी. आप के नेताओं ने बताया कि पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह भी जल्द ही वाराणसी जाएंगे और आगामी चुनाव की रणनीति पर पार्टी के पूर्वांचल के नेताओं से चर्चा करेंगे. वर्ष 2014 में आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से लोकसभा चुनाव हार चुके हैं.