Jansandesh online hindi news

चुनाव की तैयारियों को लेकर यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी का बुधवार से तीन दिन का लखनऊ दौरा

 | 
१२३४५६७८९

2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी मैदान में उतर गई है. वह तैयारियों की जाँच करने के लिए अपने तीन दिवसीय दौरे पर कल बुधवार को लखनऊ पहुंचेंगी. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के अनुसार, प्रियंका गांधी बुधवार सुबह लखनऊ पहुंचेंगी और बहुखंडी स्थित कौल आवास में रुकेंगी.
इसके अलावा यूपी कांग्रेस अध्‍यक्ष ने बताया कि प्रियंका गांधी तीन दिन तक यानी 16 जुलाई तक लखनऊ में रहेंगी. इस दौरान वह प्रदेश के भविष्य मे होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी की तैयारियों का निरूपण करने के साथ- साथ संगठनात्मक विषयों पर भी विचार-विमर्श करेंगी.

प्रियंका गांधी द्वारा दिये गए यूपी कांग्रेस को मंत्र 
बता दें कि प्रियंका ने पिछले दिनों वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान उन्हें संबोधित करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी का मंत्र दिया था. कांग्रेस महासचिव ने विधानसभा चुनाव में संगठन और कार्यकर्ताओं की बात को सबसे ज्यादा तरजीह देने का इरादा जाहिर करते हुए कहा था कि पार्टी से जुड़े सभी लोग जन समस्याओं को लेकर आंदोलन करें. इसके साथ कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि पार्टी की प्रदेश प्रभारी प्रियंका का अब पूरा ध्यान आगामी विधानसभा चुनाव पर रहेगा और वह अपना ज्यादातर समय उत्तर प्रदेश में ही गुजारेंगी. इस दौरान वह चुनाव से पहले राज्य के तमाम जिलों का ताबड़तोड़ दौरा करके मतदाताओं की नब्ज टटोलेंगी.

प्रियंका की यूपी कांग्रेस के दिग्‍गज नेताओं के साथ मीटिंग
हालांकि, यूपी कांग्रेस प्रभारी ने सोमवार को डिजिटल बैठक की जिसमें राजीव शुक्ला, सलमान खुर्शीद, यूपी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा और कई अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए. आधिकारिक बयान के मुताबिक, इस बैठक में कांग्रेस महासचिव ने महंगाई, कोरोना, पंचायत चुनावों, संगठन प्रशिक्षण शिविरों पर चर्चा की. इसके साथ प्रियंका गांधी ने कहा, 'बढ़ती महंगाई से जनता परेशान है, तो पेट्रोल-डीजल, सरसों तेल, फल-सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं. छुट्टा जानवरों से किसान बेहाल हैं. किसानों की लागत दोगुनी हो गई, लेकिन आय घट गई है.' यही नहीं, बैठक में यह फैसला किया गया कि महंगाई, बेरोजगारी एवं ‘जंगलराज’ के खिलाफ यूपी कांग्रेस सड़कों पर और मजबूती से उतरेगी, ताकि उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में इसका फायदा उठाया जा सके.