Jansandesh online hindi news

लखनऊ के लखीमपुर खीरी मे हिंसक घटना

राजधानी लखनऊ में गौतम पल्ली थाने के ठीक सामने पुलिस जीप को आग के हवाले कर दिया गया. वहीं शिवपाल सिंह यादव लखीमपुर खीरी के लिए निकल चुके हैं.
 | 
jpg फाइल
प्रियंका गांधी देर रात किसानों से मिलने के लिए रवाना हुईं

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में हिंसक प्रदर्शन के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी देर रात किसानों से मिलने के लिए रवाना हुईं. जानकारी के मुताबिक प्रियंका को सीतापुर के हरगांव में हिरासत में ले लिया गया है. उन्होंने प्रदेश पुलिस पर आरोप लगाया कि कई जगह उन्हें रोकने के प्रयास किए गए. वहीं, इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष के खिलाफ सोमवार को एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं, भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत भी लखीमपुर के लिए रवाना हो गए, जिला प्रशासन द्वारा की गई बैरिकेडिंग को ध्वस्त करते हुए लखीमपुर पहुंच गए हैं. 

जानकारी के मुताबिक राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव धरने पर बैठ गए हैं. वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद और प्रमोद तिवारी को भी हाउस अरेस्ट कर दिया गया है. खबरों की माने तो इनके अलावा बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा और शिवपाल सिंह यादव को भी हाउस अरेस्ट किया गया है. 

राजधानी लखनऊ में गौतम पल्ली थाने के ठीक सामने पुलिस जीप को आग के हवाले कर दिया गया. वहीं शिवपाल सिंह यादव लखीमपुर खीरी के लिए निकल चुके हैं. 

बता दें कि, लखीमपुर खीरी की हिंसक घटना के बाद भारतीय किसान यूनियन (BKU) ने तत्काल एक पंचायत बुलाई और सोमवार को देश भर के हर जिले में विरोध-प्रदर्शन करने का फैसला किया था. बीकेयू के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने फोन पर बताया कि यह फैसला बीकेयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत की अध्यक्षता में सिसौली गांव में हुई पंचायत में लिया गया. 

इस बीच केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री अजय मिश्रा ने सफाई दी कि किसानों के बीच छुपे हुए कुछ उपद्रवी तत्वों ने उनकी गाड़ियों पर पथराव किया और लाठी-डंडों से हमले किए गए. इतना ही नहीं उन्हें खींचकर लाठी-डंडों और तलवारों से मारापीटा गया और उक्त घटना के वीडियो होने का उन्होंने दावा किया है. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि उपद्रवियों ने उनकी गाड़ी को सड़क से खाई में धक्का दे दिया और तो और गाड़ियों में तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी गई. उन्होंने कहा कि उनका बेटा कार्यक्रम खत्म होने तक वहीं था. आगे उन्होंने कहा कि जिस तरह से घटनाएं हुई हैं, अगर उनका बेटा वहां होता तो वो उसकी भी पीटकर हत्या कर देते. 

हमारे कार्यकर्ताओं की दुखद मृत्यु हुई है. हमारे तीन कार्यकर्ता और चालक मारा गया है. हम इसके खिलाफ एफआईआर कराएंगे और इसमें शामिल सभी लोगों पर धारा 302 का केस लगाया जाएगा. 

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के गांव में वार्षिक कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन हुआ था, जिसमें सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को भी आना था. वहीं, इस कार्यक्रम में शामिल होने को जब उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य पहुंचे तो वहां पहले से मौजूद किसानों ने उनका विरोध किया. आरोप है कि इस दौरान कथित तौर पर अजय मिश्रा के समर्थकों की गाड़ी से किसानों को टक्कर लग गई. इस घटना के बाद देखते ही देखते विवाद ने हिंसा का रूप धारण कर लिया, जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई. इधर, घटना के बाद से ही इलाके में तनावपूर्ण माहौल है.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।