Jansandesh online hindi news

Zika Virus in UP : UP में 'जीका' वायरस का कहर, कानपुर में 10 और नए मामले, अबतक 89 केस  

कानपुर में जीका वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है, इस वायरस ने शहर में तांडव मचाकर रख दिया है. कानपुर में जीका वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना संकट से निपटने के बाद इस वायरस ने सबसे ज्‍यादा टेंशन बढ़ाई है. जीका वायरस के कानपुर में कुल मिलाकर 89 मामले सामने आ चुके हैं. 
 | 
Zika Virus in UP : UP में 'जीका' वायरस का कहर, कानपुर में 10 और नए मामले, अबतक 89 केस  

कानपुर में जीका वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है, इस वायरस ने शहर में तांडव मचाकर रख दिया है. कानपुर में जीका वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना संकट से निपटने के बाद इस वायरस ने सबसे ज्‍यादा टेंशन बढ़ाई है. जीका वायरस के कानपुर में कुल मिलाकर 89 मामले सामने आ चुके हैं. समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कानपुर शहर के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ. नेपाल सिंह ने बताया कि संदिग्‍ध लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे, जिनमें 10 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

इससे पहले शनिवार को कन्‍नौज में भी पहला जीका वायरस का केस सामाने आया था. पीड़ित की उम्र  45 साल थी. जिसमें जीका वायरस होने की पुष्टि हुई थी, वह शख्‍स कानपुर के शिवराजपुर स्थित कासामऊ गांव में रुका था.
उसका सैंपल 3 नवंबर को भेजा गया था, जिसमें उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली. जीका वायरस के लक्षणों की बात की जाये तो वैसे इसके लक्षण डेंगू जैसे ही होते हैं जैसे बुखार का आना, शरीर पर चकत्ते पड़ जाना और 
जीका वायरस मच्छर के कारण फैलता है.

ये वायरस एडीज एजिप्टी प्रजाति के मच्छर के काटने से होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार,  एडीज मच्छर ज्‍यादातरद दिन में काटते हैं. ये वही मच्छर है जो डेंगू, चिकनगुनिया फैलाता है. अधिकतर लोगों के बीच जीका वायरस का संक्रमण कोई गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन ये गर्भवती महिलाओं के लिए और खासतौर से भ्रूण के लिए बेहद खतरनाक हो सकता है.


,

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।