Jansandesh online hindi news

सोशल मीडिया पर 150 महिलाओं से दोस्ती फिर करोड़ो की ठगी, आरोपी हिरासत में

 | 
सोशल मीडिया पर 150 महिलाओं से दोस्ती फिर करोड़ो की ठगी,  आरोपी हिरासत में

देश: आज के समय में तकनीकी हमारे जीवन का हिस्सा बन चुकी है। हर इंसान सोशल मीडिया पर एक्टिव रहता है। वही देश विदेश के लोगो से कनेक्ट होकर उनसे दोस्ती करना आज कल लोगो के लिये आम बात हो गई है। लेकिन कई बार सोशल मीडिया के माध्यम से की गई दोस्ती आपके लिये बड़ी सजा बन जाती है और आप किसी ऐसी साजिश का हिस्सा बन जाते हैं जिसके बारे में हमने कभी कल्पना नहीं की होती है। 

वही अब खबर है की साइबर क्राइम पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो की सोशल मीडिया के माध्यम से 150 से ज्यादा महिलाओं के साथ दोस्ती कर उनसे करोड़ो की ठगी कर चुका था। साइबर क्राइम पुलिस ने नाइजीरियाई गिरोह का पर्दा फास किया है। पुलिस ने नाइजीरियाई क्यूडम क्रिश्चियन और सेनेगल निवासी महिला को ग्रेनो वेस्ट से गिरफ्तार किया है।
यह दोनो महिलाओं को शादी का झांसा देकर उनके साथ ठगी करते थे। पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया जिसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। दोनो आरोपियों से पुलिस पूंछताछ कर इस बात का पता लगाने की कवायद में जुटी है कि उन्होंने कुल कितनी रकम की ठगी की है।
बता दें इस सन्दर्भ में अभी कुछ दिन पहले नोएडा निवासी श्रेया शर्मा ने पुलिस से शिकायत की थी कि सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बनाने के बाद आरोपियों ने खुद को बेल्जियम में आईटी कंपनी का हेड बताकर उनसे 8.40 लाख रुपये ठगे हैं। मामले की जांच के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने बताया कि आरोपी क्यूडम खुद को आईटी कंपनी हेड, कंपनी अधिकारी, लीगल मैनेजर आदि बताकर सोशल मीडिया या वैवाहिक साइट पर फर्जी प्रोफाइल बनाता था और महिला को अपने झांसे में फसाकर ठगी करता था।
आरोपी क्यूडम विधवा, अधिक उम्र की महिलाओं को सामान्य तौर पर निशाना बनाता था। हाल ही के दिनों में आरोपी ने बेल्जियम की कंपनी का हेड बताकर कई महिलाओं को ठगा था। आरोपियों के पास से पुलिस ने 15 सिम बरामद किये हैं। आरोपियों के पास से बरामद मोबाइल की जांच में 200 नंबर मिले हैं। साथ ही, 400 ईमेल आईडी का डाटा मिला है। पुलिस इस मामले की तह तक जाने की लगातार कोशिश कर रही है।
Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।