Jansandesh online hindi news

इस आदमी ने अपने दोनों पैर कटवा दिए, मिलनी थी इतनी रकम

ये मामला हंगरी के Nyircsaszari का है, जहां बीते दिनों डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि सैंडर (Sandor Cs) नाम का व्यक्ति £2.4 मिलियन (लगभग 23 करोड़ 97 लाख रुपये) बीमा भुगतान और मुआवजा हासिल करने के लिए जानबूझकर ट्रेन के आगे लेटा था.  2014 में हुई इस हैरान करने वाली घटना में 54 वर्षीय सैंडर ने अपने दोनों पैर गंवा दिए थे. वह तब से कृत्रिम अंगों का इस्तेमाल कर रहा है और व्हीलचेयर के सहारे है.

 | 
इस आदमी ने अपने दोनों पैर कटवा दिए, मिलनी थी इतनी रकम

ये मामला हंगरी के Nyircsaszari का है, जहां बीते दिनों डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि सैंडर (Sandor Cs) नाम का व्यक्ति £2.4 मिलियन (लगभग 23 करोड़ 97 लाख रुपये) बीमा भुगतान और मुआवजा हासिल करने के लिए जानबूझकर ट्रेन के आगे लेटा था.  2014 में हुई इस हैरान करने वाली घटना में 54 वर्षीय सैंडर ने अपने दोनों पैर गंवा दिए थे. वह तब से कृत्रिम अंगों का इस्तेमाल कर रहा है और व्हीलचेयर के सहारे है.

पैर गंवाने के बाद सैंडर ने बीमा कंपनियों से पैसे का भुगतान करने के लिए संपर्क किया, मगर उसकी चाल पकड़ में आ गई.  एक व्यक्ति ने बीमा (Insurance) के पैसों और मुआवजा पाने के लिए ऐसी साजिश रची कि हर कोई दंग रह गया. उसने ट्रेन की पटरी पर लेटकर अपने दोनों पैर कटवा दिए, ताकि उसे बीमा की रकम मिल सके. बता दें कि व्यक्ति ने एक दो नहीं बल्कि 14 बीमा पॉलिसी  ले रखी थी. मगर कई वर्षों के बाद भी उसे बीमा के 23 करोड़ रुपये नहीं मिल सके.  

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जिस दिन सैंडर ने अपने पैर गंवाए थे, उसके कुछ वक़्त पहले उसने एक दो बल्कि 14 उच्च जोखिम वाली जीवन बीमा पॉलिसी (Life Insurance Policy) ले ली थी. जब इस बात की खबर बीमा कंपनियों को हुई तो उन्हें संदेह हुआ. उन्होंने क्लेम देने में देरी की, जिससे नाराज होकर सैंडर ने अदालत का रुख किया. अदालत में सुनवाई के दौरान बीमा कंपनियों और सैंडर ने अपनी-अपनी बात रखी.

सैंडर ने कोर्ट में दावा किया कि उसने वित्तीय सलाह प्राप्त करने के बाद फैसला लिया कि बचत खातों की तुलना में बीमा पॉलिसियों पर रिटर्न अधिक बेहतर है. इसलिए उसने पॉलिसी ली थी. सैंडर का कहना है कि वो कांच के टुकड़े पर फिसलकर अपना नियंत्रण खो बैठा था और ट्रेन की पटरी गिर गया था. इस हादसे में उसके दोनों पैर कट गए. हालांकि, सात वर्ष तक चलने वाली एक जांच ने निष्कर्ष निकाला है कि वो जानबूझकर ट्रेन के सामने लेट गया था, ताकि उसे बीमे के पैसे मिल सके. 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह jansandeshonline@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।