Home health गर्मियों के मौसम में अंडरगारमेंट्स पहनते समय विशेष ध्यान दें

गर्मियों के मौसम में अंडरगारमेंट्स पहनते समय विशेष ध्यान दें

31
0

डेस्क रिपोर्ट:

गर्मियों में बीमारियां अधिक होने का खतरा रहता है। आज हम आपको बताएंगे कि आपको गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए अंडरगारमेंट्स से जुड़ी किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और साफ अंडरगारमेंट्स न पहनने से सेहत को क्या नुकसान हो सकता है। स्वस्थ रहने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। साफ- सफाई हर चीज की होनी चाहिए। गर्मियों में विशेषकर अंडरगारमेंट्स की साफ- सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस मौसम में गर्मी की वजह से पसीना अधिक आता है जिस वजह से शरीर में गंदे बैक्टीरिया अपना घर बना लेते हैं, जिस वजह से कई तरहों की समस्याएं हो सकती हैंहमेशा साफ अंडरगारमेंट्स ही पहनने चाहिए। अगर आप साफ अंडरगारमेंट्स नहीं पहनते हैं तो आपको बैक्टीरिया से संक्रमण का खतरा रहता है, जिस वजह से आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

गर्मियों के मौसम में अंडरगारमेंट्स पहनते समय विशेष ध्यान दें। गर्मियों के मौसम में पसीना अधिक आता है, जिस वजह से बैक्टीरिया से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। गर्मियों में साफ अंडरगारमेंट्स ही पहनने चाहिए।अंडरगारमेंट्स को प्रतिदिन अच्छी तरह साफ करना चाहिए। गर्मियों में पसीना अधिक आने की वजह से बैक्टीरिया का खतरा अधिक रहता है, इसलिए अपने अंडरगारमेंट्स को डिटर्जेंट पाउडर की मदद से धोएं। डिटर्जेंट पाउडर से अंडरगारमेंट्स धोने से बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं।महिलाओं का प्राइवेट पार्ट ऐसा हिस्सा जहां बहुत जल्द ही इंफेक्शन हो सकता है ।इसलिए अंडरवियर को इस हिसाब से बनाया जाता है कि उन्हें पहनने में ना ही असुविधा हो और ना ही उनके स्वास्थ  पर बुरा प्रभाव पड़े ।अंडरवियर के अंदर लगने वाली खुफिया जेबअसल में जेब का काम नहीं करती ।अंडरवियर के निचले भाग में अलग से एक ऐसा कपड़ा लगाया जाता है जो ज्यादा नमी को सोखे अक्सर ये कपड़ा कॉटन का बना होता है. इससे प्राइवेट अंग जल्दी सूख जाते हैं और पर्याप्त हवा शरीर के निचले हिस्से तक पहुंचती है जिससे दाद या स्किन से जुड़ी कोई अन्य समस्या होने का खतरा कम हो जाता है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।