Home राष्ट्रीय मौका मिले तो भारत में हो मुसलमान………….. राम मंदिर पर गंदगी फैला...

मौका मिले तो भारत में हो मुसलमान………….. राम मंदिर पर गंदगी फैला रहा पाकिस्तान

25
0

पकिस्तान अक्सर अपने भारत विरोधी बयानों की वजह से सुर्खियों में बना रहता है। पाकिस्तान के नेता हों या क्रिकेटर भारत के खिलाफ अक्सर जहर उगलते रहते हैं। उन्हें यह बात आज तक समझ नहीं आई कि उनका अस्तित्व ही भारत से। पाक को तो लोग याद भी यह करके करते हैं कि भारत से विखडिंत होकर पाक का निर्माण हुआ। यानी पाकिस्तान भारत का हिस्सा है। 

हालाकि रोटी को तरस रहा पकिस्तान कब भारत में विलय हो जाए उसे खुद नहीं मालूम लेकिन उनके नेताओं की बिलबिलाहट कम होने का नाम नहीं ले रही। अभी बीते दिन पाक के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद भारत के हिन्दुओं के खिलाफ जहर उगलने लगे और स्वयं को मुस्लिम हितैसी दिखाते हुए बिलबिला उठे। लेकिन वह यह नहीं समझ पाए कि पाक की षड्यंत्रकारी नीति भारत का हिन्दू – मुस्लिम अच्छे से जनता है। मुस्लिम को मालूम है कि पाक में मुसलमान की क्या दशा है और जो मुस्लिम पाक में हैं यदि उनको मौका मिले तो वह भी बोरिया – बिस्तर समेत कर भारत चल दें। 

हिन्दुओं के लिए क्या बोले पाकिस्तानी कप्तान:

पाक के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद कहते हैं- भारत के पीएम मोदी भारत में एक बड़ा काम कर रहे हैं। उनके काम की भारत के लोग बड़ी सराहना कर रहे हैं। वो अयोध्या में राम मंदिर बनवा रहे हैं। यह राम मंदिर उसी जगह बन रहा है जहाँ बाबरी मस्जिद थी। जहां हमारे पूर्वजों की जड़े जुडी हैं। जहां हमने अपने खुदा की इबादत की। इंशाअल्लाह समय बदलेगा यहीं से मुस्लिम का कद बढ़ेगा। इतिहास गवाह है हमारी जड़ें जहाँ रहीं है वही से हम मजबूत हुए हैं। वह जो मंदिर बनवा रहे हैं वहां कभी मस्जिद हुआ करती थी। जो लोग राम मंदिर में जायेंगे वह मुस्लिम बनकर निकलेंगे। 

पाक के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद का यह बयाना वैसे काफी पुराना है। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर अब वायरल हो रहा है। अगर वीडियो की मानें तो यह बयाना साल 2020 का है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।