Home राष्ट्रीय जानें क्यों उठी राहुल की सदस्यता रद्द करने की मांग

जानें क्यों उठी राहुल की सदस्यता रद्द करने की मांग

25
0

देश- बीते कई दिनों से राहुल गांधी लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। अपने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी(Cambridge University) में दिए भाषण को लेकर वह बीजेपी (BJP)के निशाने पर हैं। बीजेपी नेताओं(BJP leader) का कहना है कि राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने विदेशी धरती पर भारत का अपमान किया है। वहीं अब राहुल को लेकर संसद की प्रिविलेज कमिटी(Privileged committee) से भाजपा नेता निशिकांत दुबे(BJP leader Nishikant Dubey) ने मांग की है कि उनकी सदस्यता रद्द की जाए।

सूत्रों का दावा है कि निशिकांत दुबे(Nishikant Dubey) ने कहा, हिंडनबर्ग रिपोर्ट(Hindanburg Report)  को आधार बनाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime minister Narendra Modi) का नाम जिस प्रकार से बदनाम किया जा रहा है। यह भारत पर आघात है। राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने 50 मिनट भाषण दिया और 75 बार अडानी(Adani group) का नाम लिया। सूत्रों का दावा यह भी है कि अडानी मामले में पूछताछ हेतु प्रिविलेज समिति राहुल गांधी को अगले हफ्ते बुला सकती है।
उन्होंने आगे कहा, राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने जो किया उसमें उन्होंने स्पीकर की अनुमति नहीं ली थी। मोदी जी देश के प्रधानमंत्री के साथ-साथ संसद के सदस्य हैं। आप उनपर यह गम्भीर आरोप ऐसे ही नहीं लगा सकते हैं। वह अन्य देश मे जाकर भारत की छवि खराब कर रहे हैं। वह अब जिद्दी हो गए हैं। वह स्पीकर पर गम्भीर आरोप लगा रहे हैं। हालाकि कांग्रेस सांसद के सुरेश ने कहा कि जब राहुल का भाषण एक्सपंज हो गया तब प्रिविलेज का मामला क्यों बनाया जा रहा।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।