Home राष्ट्रीय Maharashtra Politics: क्या बीजेपी के साथ जाएंगे शरद पवार?

Maharashtra Politics: क्या बीजेपी के साथ जाएंगे शरद पवार?

15
0

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में भतीजे और करीबी नेताओं की बगावत के बाद एनसीपी चीफ शरद पवार अलग-थलग दिख रहे हैं, पार्टी पूरी तरह से टूट चुकी है और पाले में बचे विधायकों की स्थिति भी डामाडोल नजर आ रही है. इसी बीच अजित पवार और तमाम बागी नेताओं ने शरद पवार से मुलाकात की. इस दौरान बागियों ने शरद पवार से एनसीपी को एकजुट रहने की अपील करते हुए कहा कि वो भी बीजेपी गठबंधन का हिस्सा बन जाएं. जिसके बाद अब शरद पवार ने इस पर जवाब दिया है. जिसमें उन्होंने ये साफ कर दिया कि वो बीजेपी के साथ नहीं जाने वाले हैं.

शरद पवार ने दिया जवाब-
एनसीपी चीफ शरद पवार ने यूथ एनसीपी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वो बीजेपी को समर्थन नहीं दे सकते हैं और उनकी विकासशील राजनीति लगातार जारी रहेगी. अजित पवार समेत तमाम बागी नेताओं से मुलाकात के कुछ ही घंटों बाद शरद पवार ने अपनी स्थिति साफ कर दी.

हालांकि सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि शरद पवार बेंगलुरु में होने वाली विपक्षी दलों की बैठक में शामिल नहीं हो रहे हैं. फिलहाल इसे लेकर कोई कारण नहीं बताया गया है, लेकिन कहा जा रहा है कि उनकी जगह बेटी सुप्रिया सुले बैठक में शामिल हो सकती हैं.  

अजित पवार समेत कई मंत्रियों ने की मुलाकात
एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल ने शरद पवार से मुलाकात के बाद इसकी जानकारी दी थी. उन्होंने बताया था कि एनसीपी प्रमुख ने चुपचाप उनकी बात सुनी, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. बता दें कि अजित पवार ने एनसीपी मंत्रियों-हसन मुशरिफ, छगन भुजबल, अदिति तटकरे और दिलीप वलसे पाटिल के साथ वाई बी चव्हाण सेंटर में शरद पवार से मुलाकात की. 

प्रफुल्ल पटेल ने दी जानकारी
बैठक के बाद एनसीपी के राज्यसभा सदस्य प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि शरद पवार उन सबके लिए एक आदर्श की तरह हैं और वे आशीर्वाद लेने के लिए उनसे मिले. अजित खेमे में शामिल पटेल ने कहा, ‘‘हमने उनसे (शरद पवार से) राकांपा को एकजुट रखने का अनुरोध किया. हमने उनसे अगले कुछ दिनों में हमारे अनुरोध के बारे में सोचने और हमारा मार्गदर्शन करने के लिए भी कहा. उन्होंने चुपचाप हमारी बात सुनी, लेकिन कुछ नहीं कहा.’’ 

इस बैठक पर टिप्पणी करते हुए, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की मुंबई इकाई के अध्यक्ष आशीष शेलार ने कहा, ‘‘अजित पवार गुट अभी भी शरद पवार को अपना नेता मानता है. किसी वरिष्ठ नेता से मिलने में कुछ भी गलत नहीं है.’

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।