Home राष्ट्रीय यूपीए सरकार के कंधों पर खड़ी है मोदी सरकार

यूपीए सरकार के कंधों पर खड़ी है मोदी सरकार

13
0

देश: यूपीए एवं एनडीए के मध्य शाबिदक विवाद जारी है। बीते दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं  अब वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने निर्मला सीतारमण के बयान का जवाब देते हुए कहा- कुछ जगहों पर केंद्र की बीजेपी सरकार मजबूती से खड़ी है इसका भी श्रेय यूपीए को जाता है। 

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने ट्वीट करते हुए कहा – माननीय वित्त मंत्री ने मोदी सरकार की उपलब्धियों पर एक लेख लिखा है।  उनके द्वारा दिए गए कई उदाहरण सत्य हैं, जैसा कि 5 या 10 सालों तक शासन करने वाली प्रत्येक सरकार के लिए सत्य होगा। वित्त मंत्री ने विपक्ष द्वारा सरकार को कोर्ट में ले जाने और केस हारने के 5 उदाहरण दिए हैं।

वह कम से कम तीन में गलत हैं: 

संसद द्वारा कानून पारित करने से पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को अवैध घोषित कर दिया था। अनुच्छेद 370 मामले पर अभी तक कोर्ट में सुनवाई नहीं हुई है, जीएसटी कानूनों के तहत कई मामले लंबित हैं।

माननीय वित्त मंत्री ने भारत को दूध, शहद और फल और सब्जियों के उत्पादन में शीर्ष स्थान हासिल करने का श्रेय दिया। ये रैंक वर्षों पहले हासिल की गई थीं और हम उन रैंकों को बरकरार रखते हैं।

माननीय वित्त मंत्री डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर का श्रेय लेती हैं। वो भूल गईं कि ‘आधार’ की परिकल्पना, निर्माण और कार्यान्वयन यूपीए सरकार द्वारा किया गया था और डीबीटी के तहत पहला हस्तांतरण यूपीए सरकार द्वारा किया गया था।

माननीय वित्त मंत्री 11.72 करोड़ शौचालयों के निर्माण का दावा करती हैं। उन्हें अपनी ही सरकार की रिपोर्ट पढ़नी चाहिए कि उनमें से कितने पानी की कमी के कारण अनुपयोगी और अनुपयोगी हैं।

हर सरकार के खाते में उपलब्धियां होंगी, मोदी सरकार भी ऐसा ही करती है।  अगर मोदी सरकार कुछ क्षेत्रों में मजबूती से खड़ी है तो इसका कारण यह है कि वह यूपीए सरकार के कंधों पर खड़ी है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।