Home राष्ट्रीय संदेशखाली का कौन है शाहजहां शेख ? कैसे बन गया औरतों...

संदेशखाली का कौन है शाहजहां शेख ? कैसे बन गया औरतों के लिए हैवान !

57
0
संदेशखाली का कौन है शेख शाहजहा ? कैसे बन गया औरतों के लिए हैवान !
संदेशखाली का कौन है शेख शाहजहा ? कैसे बन गया औरतों के लिए हैवान !

Shahjaha Sheikh की कहानी एक अत्यंत हैवानियत और दरिंदगी के रूप में उभरी है। वह पश्चिम बंगाल के संदेशखाली के एक ब्लॉक में मछली पालन और ईंट भट्टों के काम करने वाला था। उनकी राजनीतिक करियर ने उसें एक दरिंदा और हैवान बना दिया।

Shahjaha Sheikh ने अपनी अत्याचारिक और दुष्कर्मी गतिविधियों के बारे में बहुत सारी महिलाओं के साथ अपराध किए। उन्होंने 18 साल से लेकर 40 साल तक की महिलाओं के साथ यौन अत्याचार किया। शाहजहां शेख और उसके लोगों को जो औरत अच्छी लगती, पार्टी की मीटिंग के बहाने ऑफिस में बुला लेते। दो दिन, तीन दिन, चार दिन, जब तक मन होता, ऑफिस में ही रखते। जमीनों पर कब्जा किया, राशन योजना में घोटाला किया। और अन्य अपराधों में शामिल रहे।

42 साल के शेख शाहजहां की इतने अपराधों के बाद भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। यहां तक कि कलकत्ता हाई कोर्ट ने भी उसकी गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं। शेख शाहजहां की गिरफ्तारी न होने पर हाई कोर्ट भी हैरान है। पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में ऐसी सैकड़ों कहानियां हैं। इन कहानियों में सिर्फ विक्टिम बदलती हैं, आपबीती सभी की एक जैसी है।

नॉर्थ 24 परगना जिले में आने वाला संदेशखाली ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के नेता शाहजहां शेख का एरिया है। इस वजह से यहां की पुलिस और स्थानीय नेताओं का भी उसके सिर पर हाथ था।

समाचार एजेंसी PTI के हवाले से एक स्थानीय TMC नेता ने बताया कि शेख का अपने इलाके में सम्मान और भय दोनों हैं। कुछ लोगों के लिए, वह एक मसीहा है और अपने विरोधियों के लिए वह एक आतंक है। उसकी इलाके में रॉबिन हुड की छवि है।

यह एक दुखद और निंदनीय घटना है, जो हमें समाज में औरतों के साथ सुरक्षित और समर्थ रहने की आवश्यकता को और अधिक महत्व देने की आवश्यकता दिखाती है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।