Home उत्तर प्रदेश Raebareli MLA Aditi Singh: कांग्रेस ने स्पीकर को लिखा पत्र रायबरेली विधायक...

Raebareli MLA Aditi Singh: कांग्रेस ने स्पीकर को लिखा पत्र रायबरेली विधायक की सदस्यता खत्म करने के लिए

17
0

Raebareli MLA Aditi Singh: कांग्रेस ने स्पीकर को लिखा पत्र रायबरेली विधायक की सदस्यता खत्म करने के लिए

लखनऊ। कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा ने रायबरेली सदर सीट से पार्टी की विधायक अदिति सिंह सदस्यता समाप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित को पत्र भेजा है। आराधना मिश्रा ने यूपी सदस्य दल परिवर्तन की निर्भरता नियमावली 1987 के तहत यह पत्र भेजा है। अदिति सिंह ने पार्टी व्हिप के खिलाफ गांधी जयंती पर यूपी विधानसभा के विशेष सत्र में हिस्सा लिया था, जिस पर उनको पार्टी की ओर से नोटिस दिया गया था। हालांकि उन्होंने कभी उस नोटिस का जबाब नहीं दिया।

अदिति सिंह को नोटिस तब दिया गया था जब वह पार्टी के निर्देशों के विपरीत सतत विकास लक्ष्यों पर चर्चा के लिए गांधी जयंती पर बुलाये गए विधानमंडल के विशेष सत्र में शामिल हुई थीं। उन्होंने पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयान भी दिये थे। तब कांग्रेस की ओर से उन्हें नोटिस भेजा गया था, जिसका उन्होंने जवाब नहीं दिया। पार्टी के खिलाफ बागी रुख दिखाने वाली अदिति की तरफ से पार्टी अब तक आंखें मूंदे बैठी थीं। इधर, अनुशासनहीनता में पार्टी से निकाले गए वरिष्ठ कांग्रेसियों ने दो टूक कहा था कि अनुशासनहीनता में हम पर कार्रवाई और विधायक अदिति सिंह पर खामोशी पार्टी नेताओं का दोहरा चेहरा दिखाता है। माना जा रहा कि इस आरोप के बाद ही कांग्रेस विधानमंडल दल नेता ने अदिति की सदस्यता समाप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित से सिफारिश की है।

सदन की कार्यवाही में शामिल होने पर भेजा था नोटिस

महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर आहूत उत्तर प्रदेश विधान मंडल के विशेष सत्र के बहिष्कार के बावजूद कार्यवाही में शामिल होने पर कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह को कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने अनुशासन तोड़ने का नोटिस भेजा था। पार्टी का कहना था कि दो अक्टूबर को विधायकों को व्हिप जारी कर सदन की कार्यवाही का बहिष्कार करने का निर्देश दिया गया था। इसके बाद भी रायबरेली से पार्टी की विधायक अदिति सिंह ने सदन की कार्यवाही में न केवल हिस्सा लिया वरन सदन को संबोधित भी किया। यह अनुशासनहीनता है। उन्होंने कहा कि दो दिन में जवाब न मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। इस पर अदिति सिंह का कहना था कि पार्टी मेरे निर्णय को किसी भी रूप में ले। पार्टी जो भी निर्णय लेगी, मुझे स्वीकार होगा। हालांकि अभी तक अदिति सिंह के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इसको लेकर पार्टी से निष्कासित वरिष्ठ कांग्रेसियों ने सवाल उठाए थे, जिसके बाद अब यह कार्रवाई की गई है।

21 नवंबर को अदिति सिंह की हुई है शादी

रायबरेली सदर सीट से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह और पंजाब के नवांशहर से कांग्रेस के विधायक अंगद सिंह 21 नवंबर को शादी के बंधन में बंध गए हैं। यह शादी गुरुवार को दिल्ली में हुआ और फिर 23 नवंबर को रिसेप्शन रखा गया। पिछले दिनों अदिति सिंह ने खुद इसकी पुष्टि करते हुए कहा था कि यह शादी उनके पिता अखिलेश सिंह ने तय की थी। अखिलेश सिंह भी रायबरेली सदर सीट से ही विधायक चुने जाते रहे हैं। अदिति और अंगद दोनों के ही परिवार काफी समय से राजनीति में हैं। दो अक्तूबर को विधानसभा के विशेष सत्र में पार्टी के बहिष्कार के फैसले के खिलाफ जाकर भाग लेने के कारण सुर्खियों में आईं अदिति सिंह 2017 में कांग्रेस के टिकट पर पहली बार विधायक बनी थीं।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।