Home स्वास्थ्य-जीवनशैली तुलसी के जड़ से करें यह काम जीवनभर होगी पैसों की बरसात

तुलसी के जड़ से करें यह काम जीवनभर होगी पैसों की बरसात

14
0

हिंदू धर्म में तुलसी को एक पवित्र पौधा माना जाता है। कहा जाता है कि तुलसी के पौधे में मां लक्ष्मी का वास होता है। कार्तिक मास में तुलसी की विशेष रूप से पूजा की जाती है। इस दिन शालिग्राम और तुलसी का विवाह होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एकादशी के दिन तुलसी की पूजा करने से मां लक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होती है?

आज 14 जून को कृष्ण पक्ष की एकादशी है। इस दिन तुलसी को जल चढ़ाना चाहिए और मिठाई और फल चढ़ाने चाहिए। कहा जाता है कि इसकी जड़ में शालिग्राम होता है इसलिए इस दिन तुलसी की जड़ से जुड़े कुछ उपाय करना बहुत ही चमत्कारी होता है। आज हम आपको तुलसी की जड़ के कुछ चमत्कारी उपाय बताने जा रहे हैं। कहा जाता है कि इन उपायों को करने से कई परेशानियों से मुक्ति मिलती है.

तुलसी की जड़ से जुड़े कुछ खास उपाय

– शास्त्रों के अनुसार अगर आपकी कुंडली में नवग्रह का दोष है तो आपको तुलसी की जड़ की पूजा करनी चाहिए। इससे शनि सहित सभी दोषों से मुक्ति मिल सकती है।

– शास्त्रों के अनुसार यदि तुलसी की जड़ को लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में या जहां आप धन रखते हैं, वहां रख दें, जिससे धन आगमन के मार्ग खुल जाते हैं।

– शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पौधे की जड़ लेकर उसे गंगाजल से धो लें। अब इसे पीले कपड़े में बांधकर घर में रख दें। इससे घर में कलह दूर होते हैं।

– शास्त्रों के अनुसार यदि कोई व्यक्ति अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करना चाहता है तो तुलसी की जड़ को शुक्रवार के दिन चांदी के ताबीज में रखकर उसकी माला बनाकर धारण करें।
 
– शास्त्रों के अनुसार तुलसी की जड़ की माला बनाकर मंदिर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जिससे मन शांत रहता है और तनाव दूर होता है।

– शास्त्रों के अनुसार तुलसी की जड़ की माला बनाकर अपने ऑफिस डेस्क पर रखने से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। बिगड़े काम बनने लगते हैं और तरक्की होने लगती है।

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।