Home health इन तीन बातों से होती है सच्चे प्रेमी की पहचान

इन तीन बातों से होती है सच्चे प्रेमी की पहचान

43
0

प्यार अनुभव है। जिसे हर कोई महसूस नहीं कर सकता। लेकिन जो लोग प्रेम को महसूस करते हैं उन्हें इसकी वास्तविकता की परख होती है। प्रेम में यदि आपको वास्तविक साथी मिल जाता है तो आपका जीवन साकार हो जाता है। लेकिन यदि आपको कोई ऐसा साथी मिल जाता है जो आपके भाव को नहीं समझता तो प्रेम आपके लिए पीड़ा बन जाता है। वही आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जिनके माध्यम से आप पता लगा सकते हैं कि जिसके प्रेम में आप पड़े हैं वह वास्तव में आपसे प्रेम करता भी है या नहीं –

भावनात्मक जुड़ाव:

अगर आप किसी से सच्चा प्रेम करते हैं तो उससे आपका भावनात्मक जुड़ाव अवश्य होगा। आप उसकी पीड़ा को समझ कर उसे सलाह नहीं देंगे बल्कि उसका साथ देने के लिए तत्पर होंगे। आप उसके दर्द को अपना समझ कर महसूस कर पाएंगे। आपका आपके प्रेमी से इतना भावनात्मक जुड़ाव हो जाएगा कि आप उसके प्रति समर्पित होंगे और अभिलाषा से अधिक उससे सत्य से जोड़ कर रखेंगे। अब अगर आपके पार्टनर का आपसे भावनात्मक जुड़ाव है तो आप लकी हैं कि आपको इस कलियुग में सच्चा प्रेम करने वाला पार्टनर प्राप्त हुआ है। 

बातों को साझा करना:

अगर आप अपने पार्टनर के साथ हैं और आप अपने मन की सभी बातें एक दूसरे से बिना सोचे-समझे साझा कर पाते हैं। तो आपका पार्टनर आपसे सच्चा प्रेम करता है। लेकिन अगर आपको यह महसूस होता है कि आप अपने पार्टनर से अपने मन की बात नहीं कह पा रहे हैं। कुछ भी कहने से आपको कई बार सोचना पड़ता है। तो आपके रिश्ते में प्रेम की कमी है और आपको ऐसे रिश्तों से सावधान रहने की आवश्यकता है। 

मर्यादा:

कुछ लोग प्रेम के नाम पर अपनी शरीरिक अभिलाषा पूर्ण करते हैं। ऐसे में आपको सदैव यह देखना चाहिए कि आप जिससे प्रेम करते हैं क्या वह मर्यादा में रहता है और आपके साथ शरीरिक अभिलाषा से नहीं बल्कि मर्यादा से जुड़ा है। यदि आपका पार्टनर मर्यादा में रहता है आपके भाव का सम्मान करता है। आपको समझता है और सेक्स के लिए नहीं अपितु भाव के लिए आपसे जुड़ा है तो आप उसे हमेशा आपसे साथ रखें क्योंकि सच्चे प्रेमी की यही पहचान है। 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।