Home राष्ट्रीय Manipur News Live: महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

Manipur News Live: महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

11
0

Manipur Video:  महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना में शामिल मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार किए गए शख्स का नाम खुयरूम हेरादास  है और उसको मणिपुर के थॉउबल जिले से गिरफ़्तार किया गया है. उसने विडियो में हरी शर्ट पहन रखी है. हेराडास की उम्र 32 साल है. वीडियो से उसकी पहचान की गई है. बीते ढाई महीने से भी अधिक समय से देश में हिंसा के दंश को झेल रहे मणिपुर में महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने से देश में आक्रोश का माहौल है. आम जनता से लेकर समुचा विपक्ष राज्य के सीएम एन बीरेन सिंह के इस्तीफे की मांग कर रहा है. वहीं विपक्ष अब तक प्रधानमंत्री की इस मुद्दे पर चुप्पी पर भी सवाल उठा रहा है और उनसे जवाब मांग रहा है. 

देश में आज (20 जुलाई) से मानसून सत्र की शुरुआत भी हो रही है, ऐसे में ये माना जा रहा है कि मणिपुर के मुद्दे को लेकर विपक्ष आज संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा में हंगामा करेगा और सरकार से जवाब मांगेगा. इसका अंदाजा विपक्षी पार्टियों के ट्वीट से भी लगाया जा सकता है. इस मुद्दे पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मणिपुर में भारत की अवधारणा पर हमला हुआ है इसलिए विपक्षी दलों का गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव एलायंस’ (इंडिया) इस मामले पर बिल्कुल भी चुप नहीं रहेगा. 

इस वीडियो के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘प्रधानमंत्री की चुप्पी और निष्क्रियता ने मणिपुर को अराजकता की ओर धकेल दिया है. जब मणिपुर में भारत की अवधारणा पर हमला किया जा रहा है तो ‘इंडिया’ चुप नहीं रहेगा. हम मणिपुर के लोगों के साथ खड़े हैं. शांति ही आगे बढ़ने का एकमात्र रास्ता है.’

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने ट्वीट किया, ‘मणिपुर से आ रही महिलाओं के खिलाफ यौन हिंसा की तस्वीरें दिल दहला देने वाली हैं. महिलाओं के साथ घटी इस भयावह हिंसा की घटना की जितनी निंदा की जाए, कम है. समाज में हिंसा का सबसे ज्यादा दंश महिलाओं और बच्चों को झेलना पड़ता है. प्रियंका गांधी ने सवाल किया, ‘केंद्र सरकार, प्रधानमंत्री जी आखिर मणिपुर की हिंसक घटनाओं पर आंख मूंदकर क्यों बैठे हैं? क्या इस तरह की तस्वीरें और हिंसक घटनाएं उन्हें विचलित नहीं करतीं?’

णिपुर में एक महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में देश भर में आक्रोश का माहौल है, इसी माहौल में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि मणिपुर में सभ्यता का चीरहरण हुआ है और संस्कृति का पाताल-पतन. वहीं उनकी पार्टी के सांसद रामगोपाल यादव ने कहा कि  वहां पर (मणिपुर में) जो हुआ है वो बीजेपी की सरकार की वजह से हुआ है इसलिए वहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए. पीएम मोदी भाषण तो अच्छे देते हैं लेकिन देश में क्या हो रहा है इस पर नहीं बोलेंगे.

NCP प्रमुख शरद पवार ने ट्वीट किया, “…मणिपुर से परेशान करने वाले दृश्य, विशेष रूप से महिलाओं के खिलाफ अत्याचार, जो घृणित है, को देखकर व्यथित हूं. यह एकजुट होने, अपनी आवाज उठाने और मणिपुर के लोगों के लिए न्याय की मांग करने का समय है. गृह विभाग और PMO को मणिपुर में शांति बहाल करने के लिए तुरंत आवश्यक कार्रवाई करने की जरूरत है.”

मणिपुर में महिला को निर्वस्त्र करने के मामले पर कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने ट्वीट करके कहा कि आज हमें शर्म आ रही है कि इस (मणिपुर वायरल वीडियो) पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए लेकिन पीएम, गृह मंत्री कहां हैं और क्या कर रहे हैं? उन्होंने कहा मैं पूछना चाहता हूं कि पीएम चुप क्यों हैं? उन्होंने कहा कि हम मणिपुर के लिए रोडमैप तैयार कर रहे हैं. आप कई देशों का दौरा कर रहे हैं और कह रहे हैं कि भारत में सब कुछ ठीक है. हम पूछना चाहते हैं कि क्या आप अपने सीएम से इस्तीफा मांगेंगे या नहीं?

मणिपुर के वायरल वीडियो की घटना पर विपक्ष लगतार पीएम पर हमलावर हैं. कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि आज हम  संसद में मणिपुर का मुद्दा उठाएंगे. मैंने भी नोटिस दिया है. हम देखेंगे कि हमारे सभापति (राज्यसभा) हमें इसे उठाने की अनुमति देंगे या नहीं. इस पर पीएम चुप हैं. आपके पास 38 दलों को (एनडीए बैठक के लिए) बुलाने का समय है लेकिन आपके (प्रधानमंत्री) पास वहां जाने का समय नहीं है.

मणिपुर हिंसा के दौरान महिला के वायरल वीडियो पर चर्चा करने के लिए सरकार तैयार है. संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि मैंने कल भी इस बारे में बात की थी. वे (विपक्ष) नहीं चाहते कि सदन चले, इसलिए वे पहले से ही कैविएट ला रहे हैं.’ उन्होंने (मणिपुर पर) चर्चा की मांग की और जब हमने इसके लिए हां कहा, तो वे नए बहाने ढूंढ रहे हैं. यह ठीक बात नहीं है. 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।