Home राष्ट्रीय Priyanka Gandhi Speech: ‘मैं चाहूं तो…’, ज्योतिरादित्य सिंधिया को

Priyanka Gandhi Speech: ‘मैं चाहूं तो…’, ज्योतिरादित्य सिंधिया को

31
0

Priyanka Gandhi Speech on Jyotiraditya Scindia: इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव 2023 और अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव 2024 के लिए प्रमुख राजनीतिक दल सक्रिय भूमिका में नजर आने लगे हैं. इसी क्रम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मध्य प्रदेश के दौरे पर रहीं और ग्वालियर में केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तंज कसा.

बीजेपी नेता सिंधिया की बगावत के बाद पहली बार उनके इलाके में पहुंची प्रियंका गांधी ने कोई हमला तो नहीं बोला, लेकिन उन्होंने कहा, “मैं चाहूं तो सिंधिया जी के लिए बोल सकती हूं कि किस तरह अचानक उनकी विचाराधारा ही पलट गई लेकिन आज मैं आपको भटकाने नहीं आपके मुद्दों की बात करने आई हूं. आपका सबसे बड़ा मुद्दा मंहगाई का है.”

मणिपुर हिंसा पर प्रियंका गांधी

मणिपुर हिंसा को लेकर पीएम मोदी पर हमला करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, “दो महीने से पूरा प्रदेश जल रहा है, मार काट मची है, महिलाओं के साथ भयानक अत्याचार हो रहा है लेकिन कार्रवाई छोड़िए पीएम ने 77 दिन तक एक शब्द नहीं बोला. भयावह विडियो के वायरल होने के कारण कल मजबूरी में बोले लेकिन उसमें भी विपक्ष शासित राज्यों का नाम लेकर राजनीति घोल दी.”

महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार पर प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी ने मंहगाई, बेरोजगारी का मुद्दा उठाते हुए अग्निवीर योजना और मध्य प्रदेश के कथित पटवारी भर्ती घोटाले का जिक्र कर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. प्रियंका ने कहा बीते तीन सालों में केवल 21 नौकरियां दी हैं.

घोटालों और भ्रष्टाचार का आरोप लगाते प्रियंका गांधी ने कहा कि ये पैसों से खरीदी हुई सरकार है इसलिए पूरा ध्यान लूट पर है. महाकाल तक को नहीं छोड़ा. प्रियंका गांधी ने दलित, आदिवासी और महिलाओं के खिलाफ अत्याचार का मामला भी उठाया और कहा बीजेपी नेता के बेटे द्वारा बलात्कार की खबरें आती हैं. प्रियंका गांधी ने लोगों से कहा कि नेताओं से सवाल कीजिए, चुप मत रहिए.

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।