Home राष्ट्रीय Manipur Violence: सर्वदलीय बैठक के बाद अमित शाह ने की पीएम मोदी...

Manipur Violence: सर्वदलीय बैठक के बाद अमित शाह ने की पीएम मोदी से मुलाकात

27
0

मणिपुर में पिछले करीब दो महीने से जारी हिंसा को लेकर विपक्ष मोदी सरकार पर लगातार हमलावर है. इसे लेकर जारी हंगामे के बीच गृहमंत्री अमित शाह ने सर्वदलीय बैठक बुलाई, जिसमें मणिपुर हिंसा को लेकर जानकारी दी गई. अब इस बैठक के बाद गृहमंत्री शाह ने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की है. बताया गया है कि इस मुलाकात के दौरान गृहमंत्री ने पीएम मोदी को मणिपुर हिंसा और मौजूदा हालात की जानकारी दी. 

अमित शाह ने बुलाई थी सर्वदलीय बैठक 
पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की ये मुलाकात सर्वदलीय बैठक के बाद हुई है, जिसमें तमाम दलों ने मणिपुर हिंसा को लेकर सरकार से सवाल पूछे, इस दौरान अमित शाह ने सभी को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार हालात पर नजर बनाए हुए थे, उनके ही मार्गदर्शन में पूरा काम हो रहा है. इस बैठक में 18 राजनीतिक दलों ने हिस्सा लिया. 

सीएम बीरेन सिंह के साथ मुलाकात
इसके अलावा गृहमंत्री अमित शाह ने मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह से भी दिल्ली में मुलाकात की, काफी देर तक चली इस मुलाकात में मणिपुर में मौजूदा हालात पर चर्चा हुई. इस मुलाकात के ठीक बाद मुख्यमंत्री बीरेन सिंह ने ट्विटर पर बताया कि गृहमंत्री शाह की निगरानी में राज्य और केंद्र सरकार की कोशिशों के बाद अब हिंसा पर काफी हद तक काबू पा लिया गया है. सीएम सिंह ने दावा किया कि 13 जून के बाद से राज्य में हिंसा से किसी की भी मौत नहीं हुई है. 

विपक्ष दाग रहा सवाल
करीब दो महीने से चल रही इस हिंसा को लेकर पिछले कई दिनों से विपक्ष मोदी सरकार पर हमलावर है. विपक्ष ने पीएम मोदी की अमेरिकी और मिस्र यात्रा का भी विरोध किया, उनका कहना था कि देश का एक हिस्सा जल रहा है और पीएम मोदी विदेश यात्रा पर निकल पड़े हैं. विपक्ष के तीखे सवालों के बीच सरकार एक्टिव मोड में नजर आई और आखिरकार सर्वदलीय बैठक बुलाई गई, वहीं अब पीएम मोदी को पूरी जानकारी दी गई है. मणिपुर में जारी हिंसा में अब तक 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं हजारों लोगों को विस्थापित होना पड़ा है. 

Text Example

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह [email protected] पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।